DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुंडका के कबाड़ इलाके में फिर से आग लगी

मुंडका इलाके में गुरुवार तड़के प्लास्टिक के दाना तथा कबाड़ में फिर से भीषण आग लग गई। आग की भयंकरता को देखते हुए दमकल की दो दजर्न से अधिक गाड़ियां मौके पर भेजी गई। लगभग 100 कर्मचारियों ने पांच घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया। दमकल अधिकारियों का कहना है कि आग की घटना में कोई हताहत नहीं हुआ है, लेकिन दो गोदाम जल कर राख हो गए। जहां तक सामान नुकसान होने के मूल्य की बात है वह लाखों में आकलन किया जा रहा है। दूसरी तरफ आग की घटना के दौरान मौके पर पहुंचे दिल्ली सरकार के एक मंत्री के समर्थक व लोगों में हाथापाई हो गई।


आग की घटना तड़के चार बजे हुई। चंद ही समय में आग ने दो बड़े गोदाम व अन्य दुकानों को चपेट में ले लिया। आग लगने की जानकारी मिलते ही दमकल विभाग की करीब 30 गाड़ियां मौके पर भेजी गई। सुबह का समय होने की वजह से सड़कें खाली थी इसलिए कर्मचारी मौके पर समय रहते पहुंच गए। इस बीच दुकानदारों को आग लगने का पता चला तो वे भी वहां पहुंच गए। दमकल कर्मियों ने आग पर काबू पाने के लिए फोम तथा रसायनिक पदार्थ का भी इस्तेमाल किया। करीब साढ़े आठ बजे आग पर काबू पा लिया। स्थानीय नागरिकों का कहना है कि जिस जमीन पर प्लास्टिक मार्केट है वह जमीन मेट्रो शुरू होने की वजह से महंगी हो गई है। इसलिए लोग अपनी जमीन को खाली कराना चाहते हैँ और वे जानबूझ कर आग लगा रहे हैं।
इधर पुलिस का कहना है कि आग लगने के कारणों की जांच की जा रही है इस संबंध में पुलिस का कहना है कि मामले की छानबीन की जा रही है, लेकिन किसी के खिलाफ कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है।
त्रिलोकपुरी में दुकानों में लगी आग
त्रिलोकपुरी इलाके में सुबह सड़क पर बनी दुकानों में आग लग गई। लकड़ी मार्केट होने की वजह से आग तेजी से फैल गई। आग पर काबू पाने के लिए दमकल की चार गाड़ियां मौके पर भेजी गई। आधा घंटे के बाद आग पर काबू पा लिया गया। इस दौरान दुकान के साथ-साथ वहां बनी झुग्गी भी जल कर राख हो गई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मुंडका के कबाड़ इलाके में फिर से आग लगी