DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इलाज में न करें बिल्कुल लापरवाही

बिजली कटौती, जल संकट और गर्मी का प्रकोप साथ-साथ जनजीवन पर असर डाल रहीं इन मुश्किलों को देखते हुए प्रशासन ने स्वास्थ्य सेवाएं दुरूस्त करने की कवायद शुरू कर दी है। किसी के इलाज में लापरवाही न हो, इसके लिए हैल्थ अफसरों को कड़े निर्देश दिए गए हैं। सरकारी अस्पतालों में दिन-रात इलाज की व्यवस्था रखने की हिदायत दी गई है।


गर्मी का मौसम हर बार बीमारियों की वजह बनता है और मरीजों की संख्या में यकायक इजाफा हो जाता है। संक्रामक रोक भी फैलते हैं। ऐसे में अस्पतालों में मरीजों की भीड़ देखी जाती है। ऐसे में हर बार अस्पतालों में विवाद के मामले सामने आते हैं। इलाज में लापरवाही के आरोप लगते हैं और अस्पतालों में हंगामे, टकराव की घटनाएं होती हैं। अप्रैल में ही भीषण गर्मी का प्रकोप देखकर प्रशासन ने पहले ही हैल्थ अफसरों के पेंच कस दिए हैं।
एडीएम सिटी एसके श्रीवास्तव ने बताया कि हैल्थ अफसरों को हिदायत दी गई है कि सरकारी अस्पतालों में इलाज की बेहतर व्यवस्था रखी जाए। डय़ूटी पर स्टाफ हर समय मौजूद रहे और मरीजों के इलाज में किसी तरह की लापरवाही न रखी जाए। किसी तरह की लापरवाही मिली तो प्रशासन कार्रवाई करेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:इलाज में न करें बिल्कुल लापरवाही