अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मैट्रिक परीक्षा की तैयारियों के लिए विशेष इंतजाम

मैट्रिक परीक्षा की तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। परीक्षा के सफल व कदाचारमुक्त संचालन के लिए सभी जिलों को आवश्यक निर्देश जारी कर दिए गए हैं। समिति ने केंद्रों पर वीक्षकों व केंद्राधीक्षकों की सूची को अंतिम रूप से मंजूरी प्रदान कर दी है। इसके अलावा केंद्रों पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम होंगे। संवेदनशील केंद्रों की भी सूची तैयार की जा रही है। मैट्रिक परीक्षा को लेकर जिला स्तर पर समिति द्वारा उड़नदस्ता टीम का गठन किया जा रहा है। परीक्षा समिति ने छात्रों को परशानी से बचाने के लिए भी विशेष व्यवस्था की है।ड्ढr ड्ढr समिति ने 24 फरवरी तक जिलों में एडमिट कार्ड उपलब्ध कराने का निर्णय लिया है। 25 फरवरी से यह छात्रों को मिलना शुरू हो जाएगा। अगर एडमिट कार्ड में छात्र किसी प्रकार की गड़बड़ी पायेंगे तो वह उसको सुधरवाने के लिए सीधे समिति कार्यालय से संपर्क कर सकते हैं। समिति के सचिव अनूप कुमार सिन्हा ने बताया कि मुख्य परीक्षा नियंत्रक व जिलाधिकारियों को स्वच्छ चुनाव के लिए आवश्यक निर्देश जारी कर दिए गए हैं।ड्ढr ड्ढr आयी अब परीक्षाओं की बारी परीक्षाओं की बारी आ ही गयी। इंटर की प्रायोगिक परीक्षा के साथ ही मंगलवार से इसका सीजन शुरू हो गया। इंटर कॉलेजों व उच्चतर माध्यमिक स्कूलों में मंगलवार से छात्र प्रायोगिक परीक्षा के दौरान माथापच्ची करते दिखे। परीक्षा के लिए समिति ने तीन दिनों का समय निर्धारित किया है। 1रवरी तक सभी स्कूल-कॉलेजों में परीक्षा ले ली जाएगी। समिति के सचिव अनूप कुमार सिन्हा ने बताया कि प्रायोगिक परीक्षा की शुरुआत के साथ ही वर्ष 200ी परीक्षाओं का दौर शुरू हो गया है। इसके बाद मैट्रिक की वार्षिक परीक्षा दो मार्च और इंटर की परीक्षा 16 मार्च से शुरू हो रही है। वहीं मैट्रिक की प्रायोगिक परीक्षा 13 मार्च से 15 मार्च तक होगी। इस बार इंटर परीक्षा में 5.53 लाख और मैट्रिक में लगभग साढ़े आठ लाख परीक्षार्थी भाग ले रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मैट्रिक परीक्षा की तैयारियों के लिए विशेष इंतजाम