DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तिलचट्टों के 30 करोड़ साल पुराने पूर्वज का पता चला

ब्रिटिश वैज्ञानिकों ने तिलचट्टों के 30 करोड़ साल पहले के एक पूर्वज का पता लगाने का दावा किया है। लंदन के इम्पीरियल कॉलेज ने फॉसिल डुप्लीकेट के थ्रीडी मॉडल का निर्माण किया है। इसका नाम आर्काइमीलैक्रीस एगिंटोनी है। यह आजकल के तिलचट्टों के पूर्वज हैं जिन्हें मेंटाइसेज और टर्माइटस भी कहा जाता है।

वैज्ञानिकों का कहना है कि ये तिलचट्टे धरती पर 299 से 359 साल पहले कार्बोनीफेरस पीरियड के दौरान थे। यह एक ऐसा समय था जब जमीन पर जिंदगी की शुरुआत में कुछ ही वक्त बीते थे।

इससे पहले की जिंदगी सागर में बीतती थी। अध्ययन में पहली बार यह खुलासा हुआ है कि आर्काइमीलैक्रीस एगिंटोनी के शारीरिक गुणों ने उन्हें किस तरह धरती की सतह पर चलना सिखाया। इनके जीवाश्म की लंबाई आमतौर पर दो सेन्टीमीटर से नौ सेन्टीमीटर के बीच है जबकि चौड़ाई चार सेन्टीमीटर तक है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:तिलचट्टों के 30 करोड़ साल पुराने पूर्वज का पता चला