DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

टाइटैनिक ने 45 मिनट तक नहीं दिया था संकट का संकेत

टाइटैनिक ने 45 मिनट तक नहीं दिया था संकट का संकेत

समुद्र में बर्फ की चट्टान से टकराने के बाद दुर्घटनाग्रस्त हुए जहाज टाइटैनिक ने करीब 45 मिनट तक संकट का कोई संकेत नहीं दिया था। यह खुलासा एक नई किताब '101 थिंग्स यू थॉट यू न्यू अबाउट द टाइटैनिक, बट डिड नॉट' में किया गया है जिसे लेखक टिम माल्टिन ने लिखा है।

उन्होंने लिखा है कि टाइटैनिक ने बर्फ की चट्टान से टकराने के बाद संकट का संकेत देने की बजाय नुकसान का आकलन करने में काफी समय गंवा दिया।

प्रिंट मीडिया में प्रकाशित इस किताब के अंशों के अनुसार अगर समय रहते टाइटैनिक संकट का संकेत दे देता तो आसपास से गुजर रहे जहाज उसे बचा सकते थे। टाइटैनिक ने संकट का संकेत इसलिए तत्काल नहीं दिया क्योंकि जहाज के अधिकारी दुर्घटना का खुलासा नहीं करना चाहते थे।
   
ब्रिटेन के साउथैम्प्टन से अप्रैल 1912 को न्यूयार्क जा रहा सबसे बड़ा यात्री जहाज टाइटैनिक एक बर्फीली चट्टान से टकरा कर डूब गया था, जिससे 1,571 लोग मारे गए थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:टाइटैनिक ने 45 मिनट तक नहीं दिया था एसओएस संकेत