DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आंध्र प्रदेश में माओवादियों के हथियारों का जखीरा बरामद

पश्चिमी गोदावरी जिले के नजदीक बड़े पैमाने पर माओवादियों के हथियारों की बरामदगी से साफ है कि उनकी रणनीति में बदलाव आया है। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि माओवादी अपने ठिकाने के लिए अब घनी बस्तियों का चयन कर रहे हैं।

अधिकारियों ने कहा कि तानुकु शहर के नजदीक पैदीपारू गांव में विस्फोटक सामग्रियों के जखीरे की बरामदगी दर्शाता है कि उन्होंने अपने ठिकानों के लिए रणनीति बदल दी है।

उन्होंने कहा कि आंध्रप्रदेश पर फिर से कब्जा करने के लिए माओवादियों का यह एक प्रयास हो सकता है। उन्होंने कहा कि तानुकु पहले कभी भी नक्सलवादी गतिविधियों के लिए नहीं जाना गया। माओवादी अपने हथियारों को जमा करने और नक्सली गतिविधियों को चलाने के लिए जंगलों में ठिकाना बनाने के बजाए शांतिपूर्ण जगहों का इस्तेमाल कर रहे हैं।

पिछले महीने मुठभेड़ में दो शीर्ष माओवादियों के मारे जाने के बाद छिपाकर रखा गया हथियारों का बड़ा जखीरा बरामद किया गया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आंध्र प्रदेश में माओवादियों के हथियारों का जखीरा बरामद