DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

घुड़सवारी और शो जंपिंग को तैयार खेल परिसर

घुड़सवारी के शौकीनों के लिए सेक्टर-12 खेल परिसर तैयार हो गया है। इसमें न सिर्फ लोग घुड़सवारी कर सकते हैं। पोलो और शो जंपिग में करियर बनाने की तमन्ना रखने वाले बच्चाे प्रोफेशनल ट्रेनिंग ले सकते हैं। इसके लिए जेब जरूर ढ़ीली करनी होगी।


घुड़सवारी की ट्रेनिंग के लिए यह जिले में एकमात्र केंद्र है। इसमें प्रशिक्षित लोग आकर घोड़े को मनचाहे अंदाज में दौड़ा सकते हैं। नौसिखियों के लिए इस केंद्र पर हर सुविधा उपलब्ध है। छह घोड़े इस केंद्र पर हैं। बच्चाे से बड़े तक यहां आकर घुड़सवारी की ट्रेनिंग ले सकते हैं। घुड़सवारी को रोमांचक बनाने के लिए केंद्र पर जंपिंग की व्यवस्था की गई है। पहले घुड़सवारी सिखाने के बाद शो जंपिंग की ट्रेनिंग लोगों को दी जाती है।


लोगों के लिए इसे सीखने की कीमत ज्यादा हो सकती है। पर शौकीनों के लिए ज्यादा नहीं है। चार हजार रुपए प्रति महीना घुड़सवारी सीखने की फीस है। इसमें बच्चाों को सुरक्षा उपकरण भी केंद्र पर उपलब्ध कराए जाएंगे। केंद्र के संचालक संजय सेठी ने बताया कि सुबह 6.30 से 8.30 बजे और शाम 5.30 से 8.30 बजे घुड़सवारी सीखी जा सकती है।


केंद्र की खूबी है कि दिल्ली-एनसीआर में होने वाले हॉर्स शो में इसके कई बच्चाे मेडल जीतते आए हैं। ऐसे शो की जानकारी इसमें घुड़सवारी सीखने वालों तक पहुंचाने की व्यवस्था है। ताकि जिले का नाम घुड़सवारी में भी अव्वल हो सके।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:घुड़सवारी और शो जंपिंग को तैयार खेल परिसर