DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कालपी जा रहे तीन भाजपा विधायक गिरफ्तार

कालपी प्रकरण को भाजपा अब ठंडा नहीं होने देना चाहती। देवी प्रतिमा के खंडित करने के बाद हुए उपद्रव के मामले में प्रदेश नेतृत्व के निर्देश पर जाँच करने जा रही भाजपा नेताओं की टीम को पुलिस ने माती में पकड़ लिया। पुलिस क्षेत्रीय अध्यक्ष समेत तीन विधायकों को अपने घेरे में लेकर पीडब्लूडी गेस्ट हाउस में लाई।

उधर, उरई से पूर्व मंत्री बाबूराम के नेतृत्व में चले एक प्रतिनिधिमंडल को भी कानपुर देहात में जबरन रोक लिया गया। भाजपा नेताओं ने सरकार के इशारे पर तानाशही रवैया अपना कर उन्हें गिरफ्तार किए जाने का आरोप लगाया। इस बात को लेकर भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष पुलिस से भिड़ गए। वहीं पुलिस प्रशासन ने गिरफ्तारी से इनकार कर नेताओं को कालपी जाने से रोकने की बात कही है।

बीते शनिवार को कालपी में देवी प्रतिमा के साथ 2 शिव मंदिरों में भी देव प्रतिमाओं को खंडित किए जाने के बाद भारी बवाल हुआ था। इसमें कालपी के पूर्व विधायक अरुण महरोत्र, भाजपा जालौन जिलाध्यक्ष नरेंद्र सिंह जादौन सहित बड़ी संख्या में लोगों द्वारा सड़क जाम करने पर प्रशासन ने उनके खिलाफ मुकदमें दर्ज किए थे।

कालपी में भाजपाईयों पर दर्ज हुए मुकदमों की जाँच करने के लिए प्रदेश भाजपा के निर्देश पर पार्टी के कानपुर क्षेत्र अध्यक्ष सुशील शाक्य, विधायक प्रेमलता कटियार, सलिल विश्नोई व सतीश महाना कानपुर से कालपी जा रहे थे। भाजपा नेताओं के कालपी पहुँचने पर वहाँ साम्प्रदायिक महौल बिगड़ने की बात कहकर इन्हें रास्तें में ही रोकने के निर्देश दिए गए। इस पर अकबरपुर पुलिस ने बारा व माती के बीच घेराबंदी करके भाजपा नेताओं को पकड़ लिया।

काफी जद्दोजहद के बाद पुलिस भाजपा नेताओं को वहाँ से माती स्थित पीडब्लूडी गेस्ट हाउस लाई। भाजपा नेताओं के पकड़े जाने की भनक लगते ही बड़ी संख्या में भाजपाई गेस्ट हाउस पहुँच गए। सूचना पर पहुंचे पार्टी के पूर्व जिलाध्यक्ष श्याम सिंह सिसौदिया नेताओं की गिरफ्तारी पर खासे खफा थे। वह इस मामले को लेकर पुलिस से भिड़ गए।

उन्होंने कहा कि पुलिस बताए कि उनके नेताओं से कानपुर देहात में कहां समस्या हो रही है और उन्हें किस धारा में गिरफ्तार किया गया है। वहीं दूसरी ओर एसडीएम सदर एससी शुक्ला ने भाजपा नेताओं की गिरफ्तारी की बात से इनकार किया। उन्होंने कहा कि भाजपा नेताओं को सिर्फ कालपी जाने से रोका गया है। दोपहर 2 बजे सभी नेताओं को वापस कानपुर भेज दिया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कालपी जा रहे तीन भाजपा विधायक गिरफ्तार