DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उद्यमी बोले, सुविधाएं तो दो

एल्डिको सिडकुल औद्योगिक पार्क की बदहाली के लिए उद्यमी प्रदेश सरकार को जिम्मेदार मानते हैं। जिसने उद्यमियों को अवस्थापना सुविधा मुहैया नहीं कराई। पिछले तीन वर्ष में सरकार के किसी भी नुमाइंदे न यह जानने की कोशिश तक नहीं की कि सिडकुल में अवस्थापना सुविधाओं का क्या हाल है।

उद्यमी कहते हैं कि उन्हें अवस्थापनायें सुविधाएं देने का आश्वासन दिया गया। लेकिन प्रदेश सरकार भूखण्ड बेचकर सब कुछ भूल गई। किसी भी सक्षम मंत्री ने उद्योगों को बिजली निर्बाध मिले इसकी जिम्मेदारियां तय करना उचित नहीं समझा। सितारगंज सिडकुल इण्डस्ट्रीज वैलफेयर ऐसोसियेशन के अध्यक्ष आरके गुप्ता का कहना है कि सरकार को सितारगंज में स्थापित उद्योगों का कतई ख्याल नहीं है।

प्रदेश सरकार का सुलभ व सस्ती बिजली के दावे खोखले साबित हुए। उन्होंने कहा कि पैकेज की समय अवधि बढ़े इसका सब स्वागत करते हैं लेकिन लगे उद्योग फलें फूलें, इसका ध्यान भी प्रदेश सरकार को रखना होगा। ऐसोसिएशन के महासचिव सुरेश कुमार के अनुसार उनसे कहा गया था बिजली मिलेगी। इसलिए उन्होंने उद्योग स्थापित करते वक्त पावर प्लांट नहीं लगाये। अब उद्योगपति अधर में लटक गये हैं। उद्यमी वीके अग्रवाल के अनुसार क्षेत्र में सड़कों की हालत खराब है।

राजकुमार ने बताया कि पार्क में फायर स्टेशन तक स्थापित नहीं हो पाया। उद्यमी भारत सहगल, समरजीत, प्रशान्त अग्रवाल,जीडी जोशी, वासुदेव के अनुसार बिजली दरें और अधिक बढ़ाने के लिए उत्पीड़न की कार्रवाई की जा रही है, जो कि ठीक नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:उद्यमी बोले, सुविधाएं तो दो