DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जनगणना में लापरवाही से प्राधनाचार्यों पर मुकदमों की तैयारी

जनगणना में सहयोग न करने पर प्रधानाचार्यो के खिलाफ मुकदमे की तैयारी
 -मुकदमा दर्ज करने के लिए थानों को भेजा पत्र
-शहर के नामचीन कालेज व स्कूलों के प्रधानाचार्य लिस्ट में
-स्टॉफ की स्टेमेंट नहीं भेजी
-कारण बताओ नोटिस जारी किया
-तीन साल की सजा व एक हजार रुपये जुर्माने का प्रावधान
-करीब 60 स्कूलों को कारण बताओ नोटिस जारी
-तीन हजार में से पांच हजार कर्मचारी ही पहुंचे ट्रैनिंग लेने
-निगमायुक्त के आदेश पर कार्रवाई शुरू

जनगणना-2011 में सहयोग न करने पर शहर के प्राइवेट कालेज व स्कूलों के प्रधानाचार्यो के खिलाफ पुलिस में मुकदमा दर्ज करवाया जाएगा। प्रधान जनगणना अधिकारी एवं निगमायुक्त महताब सिंह सहरावत के निर्देश पर ऐसे लापरवाह अफसर व कर्मचारियों के खिलाफ यह सख्त कार्रवाई करने की कवायद शुरू हो चुकी है। पुलिस थानों में रिपोर्ट दर्ज करने की बाबत पत्र तैयार किया गया है। कार्रवाई के लिए इसे थानों में भेज दिया। स्टॉफ स्टेटमेंट न भेजने पर शहर के करीब 60 स्कूलों को कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया। कार्रवाई पर अमल हुआ तो जनगणना एक्ट 1948 की धारा 11 (1), (ए) के तहत तीन साल की सजा व एक हजार रुपये जुर्माने का प्रावधान है।
जनगणना के लिए तैयारियां जोरों पर हैं। करीब तीन हजार कर्मचारियों की जरूरत है। सरकारी महकमों के बाद निजी कालेज व स्कूलों से स्टॉफ लेने का फैसला किया गया है। पत्र लिखकर प्रधान जनगणना अधिकारी ने ऐसे करीब 116 शिक्षण संस्थानों से उनकी स्टॉफ स्टेटमेंट मांगी। इस पर अमल न करने वाले करीब 60 संस्थानों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया। माकूल जवाब नहीं आया। अब उनमें से कई कालेज व स्कूलों के खिलाफ पुलिस में मुकदमा दर्ज करवाने का फैसला किया है। मंगलवार दिनभर अफसर उनके खिलाफ कार्रवाई के लिए मसौदा तैयार करने में जुटे रहे। हरियाणा के जनगणना अधिकारी ललीता प्रसाद के साथ निगम के चार्ज आफिसर एवं जेडटीओ बलबीर पंवार इसको अंजाम दे रहे हैं। एक मई से शुरू होने वाले इस काम के लिए फिलहाल अफसर व कर्मचारियों को ट्रैनिंग दी जा रही है। ललीता प्रसाद का कहना है कि तीन हजार में से पांच हजार कर्मचारी ही ट्रैनिंग के लिए पहुंच पाए हैं। जो चिंता का विषय है। यही हाल रहा तो जनगणना मुश्किल हो जाएगी।
---------------------------
कारण बताओ नोटिस को लेकर इनके खिलाफ चल रही कार्रवाई

-डीएवी स्कूल एनएच-तीन
-बीपी सीनियर सेकेंडरी स्कूल सेक्टर-27
-दयानंद पब्लिक स्कूल एनएच-पांच
-दयानंद महिला विद्यालय एनएच-पांच
-दयानंद पब्लिक स्कूल नेहरू ग्राउंड
-बीएम सीनियर सेकेंडरी स्कूल सेक्टर-49
-डीएवी शताब्दी कालेज एनएच-तीन
-रेयान इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर-21
-होली एंजल्स स्कूल सेक्टर-21ए
-जीवा पब्लिक स्कूल सेक्टर-21बी
-दीनानाथ स्कूल एनएच-एक 2/ए
-------------------------------
चार्ज आफिसर एवं जेडटीओ बलबीर पंवार, नगर निगम: शहर के 11 कालेज व स्कूलों के प्रधानाचार्यो के खिलाफ पुलिस में मुकदमा दर्ज करवाने की तैयारी शुरू हो गई है। एसएचओ के नाम पत्र जारी किया गया है। जिसके आधार पर मुकदमा दर्ज होगा। प्रधान जनगणना अधिकारी एवं निगमायुक्त ने इस राष्ट्रीय कार्य में कोताही बरतने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं।
----------------------------
जनगणना अधिकारी ललीता प्रसाद, हरियाणा: जिले में जनगणना के लिए करीब तीन हजार अधिकारी व कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है। पांच अप्रैल से चल रही ट्रैनिंग में अब तक पांच हजार कर्मचारी ही पहुंच पाए हैं। जो चिंता का विषय है। निजी कालेज व स्कूलों का अपेक्षित सहयोग नहीं मिल पा रहा है। जनगणना एक्ट के तहत उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।
----------------------
दयानंद महिला विद्यालय की सुपरिडेंट रंगीला: जनगणना ड्यूटी के लिए प्रधान जनगणना अधिकारी को स्टॉफ की लिस्ट मुहैया करवाई जा रही है। इस राष्ट्रीय कार्य में पूरा सहयोग दिया जाएगा।
-----------------------------
जनगणना में पूछे जाने वाले सवाल
-घर कहां पर है
-घर का नंबर
-फर्श किसे बना है
-दीवारें किससे बनी हैं
-छत किससे बनी है
-घर की कंडीशन कैसी है
-घर का क्या इस्तेमाल आवासीय या कुछ और
-क्या मकान खाली है
-कितने लोग रहते हैं
-कितने पुरुष, कितनी स्त्री, मुखिया का नाम, स्त्री है पुरुष
-अनुसूचित जाति या जनजाति
-घर के मौलिक कौन हैं
-घर में कमरे कितने हैं
- विवाहित जोड़े कितने हैं
-पानी कौन सा पीते हैं
-पेयजल का स्त्रोत क्या है
- प्रकाश का स्त्रोत क्या है
-अटैच टायलेट है या नही
-सीवर कनेक्शन है या नहीं
- बाथरूम है या नहीं
-किचन है या नहीं
- खाना बनाने का ईंधन क्या है
- घर में रेडियो, ट्रांजिस्टर, टेलीविजन, कंप्यूटर, लैप्टाप, टेलीफोन, मोबाइल, साइकिल, स्कूटर, कार, जीप, वैन में से क्या है
-क्या बैकिंग सुविधा है
---------------------------
खास बातें

-एक मई से 15 जून तक चलेगी जनगणना
-गलती सूचना भरने व देने वाले को दंड दिया जा सकता है
-एक गणना अधिकारी को रोज करीब पांच घरों का विवरण करना होगा तैयार
-सुबह-शाम करेंगे काम
-कर्मचारी को दफ्तार का काम भी करना होगा जरूरी

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जनगणना में लापरवाही से प्राधनाचार्यों पर मुकदमों की तैयारी