DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मनरेगा में गड़बड़ी करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश

मनरेगा के क्रियान्वयन में बड़े पैमाने पर अनियमितता की कांग्रेस की शिकायतों एवं आरोपों के बीच उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री मायावती ने इस योजना के तहत गडबड़ी करने वाले कर्मचारियो-अधिकारियो के विरुद्ध सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।

मनरेगा के तहत हो रहे कामों में मिली शिकायतों के मद्देनजर हाल ही में 42 से अधिक कर्मचारियों-अधिकारियो के निलम्बन का उल्लेख करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा है कि मण्डलायुक्त और जिलाधिकारी यह सुनिश्चित करे कि गरीब एवं रोजगार की आवश्यकता वाले लोगों को इस योजना में मांग के अनुसार काम देने के लिए गांवों में उपयोगी एवं स्थायी परिसम्पत्तियां सृजित की जाए तथा गडबड़ी करने वालो के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाए।

मायावती ने गर्मी के मौसम को देखते हुए पेयजल की समस्या के समाधान के लिए पुराने हैण्डपम्पों की पुन: बोरिग, नये हैण्डपम्पो की स्थापना तथा खराब पड़ी हुई पेयजल की योजनाओं को मई के अंत तक अनिवार्य रुप से चालू कराने के लिए भी कहा है। उन्होंने महामाया गरीब आर्थिक मदद योजना का हवाला देते हुए कहा कि इस योजना के अन्तर्गत पात्र परिवारों के सर्वेक्षण के दिशा निर्देश गत 30 मार्च तक जारी किए गए थे।

उन्होंने कहा कि इन निर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित करते हुए शत-प्रतिशत लाभार्थियो का चयन 30 सितम्बर तक सुनिश्चित कर लिया जाए ताकि इन परिवारों को योजना का लाभ अक्टूबर माह से मिलने लगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मनरेगा में गड़बड़ी करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई