DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विवादों को ट्विस्ट देता ट्विटर

विवादों को ट्विस्ट देता ट्विटर

ना कैमरा, ना माइक, ना पत्रकारों के आड़े-तिरछे सवाल...लेकिन बवाल इस बार भी वैसा ही जैसा कि पहले कई दफा देखा गया, मगर इस बार इसमें थोड़ा ट्विस्ट है। यह ट्विस्ट दिया है ट्विटर के अंदाज ने। ऑरकुट, फेसबुक जैसी सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट के बाद 2008 में आई माइक्रोब्‍लॉगिंग साइट ट्विटर ने ऑनलाइन की दुनिया को हिला डाला।

राजनेता हो या अभिनेता, आज किसी को भी कोई बात कहनी हो तो प्रेस कॉन्फ्रेंस या ब्लॉग लिखने की बजाए ट्विटर पर ट्विट करना बेहतर समझा जाता है। मीडिया भी अब कैमरा और कलम उठाकर चलने की बजाए सुर्खियां बनाने वालों के ट्विटर अकाउंट को फॉलो कर रहा है। आज 140 शब्दों का एक ट्विट ऐसी लहर पैदा करता है कि उसके बाद विवादों का एक सिलसिला चल निकलता है।

'ट्विटर मंत्री' थरूर
देश में अगर ट्विटर क्रांति लाने के लिए कोई एक नाम जिम्मेदार है तो वह है विदेश राज्य मंत्री शशि थरूर। थरूर और ट्विटर का नाता इस कदर जुड़ गया है कि अब उन्हें मीडिया में 'ट्विटर मंत्री' के नाम से संबोधित किया जाने लगा है। सबसे पहले थरूर-ट्विटर की जोड़ी तब सुर्खियों में आई जब सरकारी खर्च के बेजा इस्तेमाल को लेकर उन्होंने ट्विट किया। बिजनेस क्लास की बजाए सरकारी खर्च पर इकॉनोमी क्लास में जाने पर थरूर ने ट्विटर के जरिए इकॉनोमी क्लास को कैटल क्लास यानी जानवरों की जमात बता डाला। और यहीं से थरूर के एक ट्विट ने अच्छे-खासे विवाद की शक्ल ले ली। फिर कैटल क्लास टिप्पणी पर 'ट्विटर मंत्री' की क्लास भी लग गई।

एक बार फिर थरूर और ट्विटर की जोड़ी सुर्खियों में है। आईपीएल कमिश्नर ललित मोदी ने ट्विटर के जरिए बताया है कि थरूर ने उन्हें कोच्चि फ्रेंचाइजी के मालिक का नाम सार्वजनिक नहीं करने के लिए कहा था। अब मीडिया भी थरूर से सफाई मांग रही है, लेकिन अपने पोर्टफोलिया का पालन करते हुए थरूर शायद ट्विटर पर ही ट्विट करते दिखाई दें।

इससे पहले कांग्रेस नेतृत्व ने थरूर को ट्विटर पर सरकारी नीतियों के बारे में टिप्पणियां नहीं करने की हिदायत दे डाली। भले ही थरूर अपने ट्विट्स को लेकर विवादों में रहे हों लेकिन उनकी नजर में सरकारी नीतियों पर ट्विट करना बिल्कुल जायज है। थरूर के मुताबिक जब आप ट्विटर पर कोई विचार रखते हो तो वह करीब साढ़े सात लाख लोगों तक पहुंचता है। फिर कोई नेता इसका लाभ क्यों नहीं उठाना चाहेगा?  थरूर ने ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री, ब्रिटेन के विदेश मंत्री और अमेरिकी विदेश मंत्री का नाम गिनाते हुए कहा कि आज कई लोग ट्विटर का इस्तेमाल कर रहे हैं।

सरकोजी, ब्रूनी और ट्विटर
विवादों का अंतरराष्ट्रीयकरण करने में भी ट्विटर को महारत हासिल है। ऐसा ही एक वाक्या है फ्रांस के राष्ट्रपति निकोलस सरकोजी, उनकी पत्नी कार्ला ब्रूनी और ट्विटर के ट्विस्ट का।

फ्रांस के एक ऑनलाइन जर्नलिस्ट ने ट्विटर पर सरकोजी और ब्रूनी के कहीं और अफेयर के बारे में ट्विट कर दिया था, जिसके बाद दुनियाभर के पत्रकारों ने उन्हें फॉलो करना शुरू किया। इसके बाद यह अफवाह इस तरह अंतरराष्ट्रीय मीडिया में सुर्खियां बनने लगी कि खुद सरकोजी को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इसे खारिज करना पड़ा। फ्रांस के राष्ट्रपति की ऐसी बदनामी के बाद ट्विटर के गलत इस्तेमाल पर बहस भी छिड़ गई।

ट्विटर पर चुंबन
विवादों और ट्विटर के किस्सों में पाकिस्तान के कॉलेज में हुई चुंबन की घटना को कौन भुला सकता है। सरेआम प्रेम का स्पर्श से इजहार (चुंबन) किए जाने पर एक वरिष्ठ छात्र ने रमजान के पवित्र महीने में आपत्ति जताई थी। उसने दो छात्रों को किस करते हुए देखा था और उसने विश्वविद्यालय परिसर की ई-मेल से छात्रों को बड़े पैमाने पर मेल भेजकर इस घटना पर खूब हाय-तौबा मचाई। जिसके बाद यह चुंबन विवाद जायज-नाजायज की बहस के साथ ट्विटर के सिर चढ़कर बोलने लगा। ट्विटर पर कुछ छात्रों ने इस पर इस्लाम धर्म का हवाला देते हुए प्रतिक्रिया दी, वहीं कुछ छात्रों ने इस मसले को उठाने के बारे में छात्र अवान का मजाक उड़ाया।

ट्विटर पर खावेर सिद्दीकी नाम के एक शख्स ने इस विवाद पर खुलकर प्रतिक्रया दी है। उसने लिखा, "हा हा हा, चुंबन पर पहरा।" जबकि अलीसा हैरिस ने लिखा है कि उसे गर्व है कि वह पाकिस्तान में नहीं रहती है। हाफ्सा अरैन ने इस विवि परिसर में प्रस्तावित प्रतिबंध की खबर सुनने के बाद अपने संदेश में कहा है कि हाय बेचारे लड़के। जबकि एक अन्य छात्र ने लिखा है कि यह विवादास्पद चुंबन सिर्फ एक चुंबन नहीं है बल्कि नुक्ताचीनी है।

ट्विट है हिट
अक्सर बॉलीवुड और ग्लैमर वर्ल्ड की शख्यिसतें अपने बयानों को लेकर मीडिया गॉसिप का हिस्सा बनी रहती हैं। शायद इसलिए बॉलीवुड ने सीधे मीडिया से मिलने की बजाए ट्विटर का सहारा लेना बेहतर समझा। साथ ही ट्विटर ने सेलीब्रिटी और उनके फैन के बीच की दूरियां भी कम कर दी हैं।

प्रियंका चोपड़ा, अभिषेक बच्चन, एश्वर्या राय, शाहिद कपूर, करन जौहर, माधवन, महेश भट्ट, अनुपम खेर जैसी कई बॉलीवुड हस्तियां रोजाना ट्विट पे ट्विट कर रही हैं। यहां तक कि इन लोगों ने इस सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट के जरिए अपनी फिल्मों का प्रमोशन करना भी शुरू कर दिया है।

जहां अमिताभ बच्चन ट्विटर के जमाने में भी ब्लॉग लिख रहे हैं वहीं उनके बेटे अभिषेक जूनियर बच्चन के नाम से ट्विट कर रहे हैं। अभिषेक की पत्नी एश्वर्या भी ट्विटर से नाता जोड़ चुकी हैं और उन्होंने अपनी सास यानी जया बच्चन को भी ट्विटर पर आने की राय दे डाली।

हाल ही में 'माई नेम इज खान' को लेकर शाहरुख खान और शिवसेना में तनातनी हो गई थी। ट्विटर पर भी यह बहस छिड़ गई। जिसमें जूनियर बच्चन खुले तौर पर शाहरुख के पक्ष में ट्विट करते नजर आए।

वहीं करन जौहर के लिए ट्विटर 'कभी खुशी, कभी गम' लेकर आया है। दरअसल करन के अकाउंट पर अक्सर ऐसे ट्विट भी आते रहते हैं, जो इस डायरेक्टर का कतई पसंद नहीं। ट्विटर की दुनिया के बारे में खुद करन कहते हैं कि ज्यादातर ट्विट अच्छे, स्पष्ट और गर्मजोशी वाले होते हैं लेकिन निजी जिंदगी के बारे में आने वाले ट्विट उन्हें दुख पहुंचाते हैं। अभिनेत्री सोनम कपूर भी ट्विटर को लेकर करन की परेशानियों से इत्तेफाक रखती हैं। यहां तक की सोनम ने करन को ऐसी टिप्पणी करने वाले लोगों का ट्विटर अकाउंट ब्लॉक करने की राय तक दे डाली। 

मल्लिका सहरावत भी अक्सर ट्विटर पर ट्विट करती रहती हैं। मल्लिका को ट्विटर के मुख्‍यालय का न्यौता भी मिल चुका है। सेन फ्रांसिसको, कैलिफोर्निया में ट्विटर के इस मुख्‍यालय में जाने वाली मल्लिका पहली भारतीय हैं।

उधर, असल जिंदगी में एक एक्टिंग स्कूल चलाने वाले जाने-माने अभिनेता अनुपम खेर ने ट्विटर पर भी एक एक्टिंग स्कूल खोल दिया है। जबकि एक बॉलीवुड डायरेक्टर को तो अपनी आने वाली फिल्म का नाम ट्विटर से ही मिला।

मैरिज मिस्ट्री और ट्विटर
हाल ही में सानिया-शोएब-आयशा की शादी का पेंच कुछ इस तरह उलझ गया था कि एक तरह से यह देश की सबसे बड़ी मैरिज मिस्ट्री बन गई। मीडिया हर रोज नए खुलासे और विवाद लेकर सामने आ रहा था तो सानिया-शोएब भी विवादों से बचने के लिए मीडिया में आने से बचे। इस बीच सानिया को ट्विटर का सहारा लेना ही पड़ा। तब सानिया ने ट्विट कर बताया कि किस तरह से इन विवादों ने उनकी रातों की नींद हराम कर दी है और उनके चेहरे से हंसी गायब हो गई है। मीडिया में उठ रहे सवालों का जवाब देते हुए सानिया ने ट्विटर के जरिए शोएब का पूरी तरह से साथ देने के बात कह डाली। 

ट्विटर बनेगा तलाक का सबूत
कानूनी विशेषज्ञों की माने तो ट्विटर, फेसबुक और ऑरकुट जैसी सोशल नेटवर्किंग साइट्स किसी व्यक्ति की मन:स्थिति जाहिर करती हैं, इसलिए कानूनी मामलों में ऐसी वेबसाइट्स को सबूत के तौर पर इस्तेमाल किया जा सकता है। आईटी अधिनियम 2000 में पिछले साल अक्टूबर में संशोधन कर यह नई धारा जोड़ी गई थी। माइक्रोब्लॉगिंग और सोशल नेटवर्किंग साइट्स के बढ़ते इस्तेमाल को देखते हुए यह धारा जोड़ी गई। इस सिलसिले में एक मामला भी कोर्ट तक पहुंचा था, जिसमें 30 वर्षीय अनु शर्मा को शक था कि उनके पति उनसे झूठ बोलते हैं। अनु का मानना था कि उनके पति अक्सर बिजनेस के सिलसिले में घर से दूर रहते थे। लेकिन एक दिन अनु को ट्विटर के जरिए पता चला कि उनके पति शहर में ही एक पार्टी कर रहे हैं। तो उसने ट्विटर को सबूत बनाते हुए अपने पति पर तलाक का मुकदमा दायर कर दिया।

ओल्ड बने बोल्ड
विशेषज्ञों के मुताबिक आज ट्विटर जैसी वेबसाइट का इस्तेमाल ज्यादातर प्रौढ़ कर रहे हैं, वह भी ऐसे लोग जिन्होंने ट्विटर के पहले किसी दूसरे सोशल साइट का इस्तेमाल नहीं किया है। ट्विटर इस्तेमाल करने वाले 12 से 17 साल के युवा की संख्या महज 11 फीसदी है। कॉम स्कोर साइट की मानें तो ट्विटर सबसे पहले बिजनेसमैन और मीडिया में खासा लोकप्रिय हुआ।

अंतरिक्ष से किया ट्विट
ट्विटर वेबसाइट का उपयोग पहली बार एक अमेरिकी अंतरिक्ष यात्री ने अंतरिक्ष में किया। अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन पर तैनात टिमोथी क्रेमर ने पहली बार ट्विटर संदेश भेजा। 

एक सर्वे के मुताबिक ब्रिटेन में लगभग 17 फीसदी बिजनेसमैन ट्विटर का इस्तेमाल करते हैं। ट्विटर का इस्तेमाल अमेरिकी राष्ट्रपति चुनावों के दौरान भी कैंपेन के लिए किया गया। 26/11 के मुंबई हमलों के दौरान प्रत्यक्षदर्शियों ने हर पांच सेकेंड में ट्विटर पर करीब 80 संदेश भेजे। वहीं अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा भी ट्विटर पर हाथ आजमा चुके हैं। ओबामा ने भूकंप पीड़ित हैती की मदद के लिए ट्विटर से ही मदद की अपील की थी। 

अब आपको बता दें कि ट्विटर पर एक और जाना-माना नाम जुड़ चुका है। सलमान खान भी अब ट्विट करते नजर आएंगें। ट्विटर पर आने के कुछ ही घंटों के बाद उनके फैन-फॉलोअर की संख्या तीन हजार के पार पहुंच गई थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विवादों को ट्विस्ट देता ट्विटर