DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पश्चिमी दिल्ली की छात्राओं को भाता है भारती कॉलेज

दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रमुख महिला कॉलेजों में भारती कॉलेज लोकप्रिय है। खासकर पश्चिमी दिल्ली की छात्रएं इसमें दाखिला लेना चाहती हैं। यहां पढ़ाई के साथ स्पोर्ट्स, ड्रामा, एनसीसी, एनएसएस, इको क्लब जैसी गतिविधियों से छात्रओं के व्यक्तित्व का विकास होता है। सन 1971 में करोलबाग में भारती महिला कॉलेज के नाम से शुरू हुआ यह कॉलेज 1998 में जनकपुरी स्थित अपने वर्तमान कैंपस में पहुंचा। यह कैंपस 8.6 एकड़ में फैला है।

इस साल दूसरी कंप्यूटर लैब शुरू हो जाएगी

ओबीसी आरक्षण के बाद बढ़ी सीटों के आधार पर सुविधाएं बढ़ाई जा रही हैं। एकेडमिक ब्लॉक का निर्माण हो रहा है। ऑडिटोरियम और लगभग 75 सीटों वाले छात्रवास का निर्माण शुरू किया जा रहा है। एक बॉस्केट बॉल कोर्ट का निर्माण पूरा हो चुका है। इसी साल से 80 कम्प्यूटर क्षमता वाली लैब शुरू कर दी जाएगी जबकि 75 कम्प्यूटरों की क्षमता वाली लैब पहले से है।

16 सौ सीटें हैं कॉलेज में

बीकॉम ऑनर्स, अंग्रेजी में बीए ऑनर्स और बीकॉम काफी लोकप्रिय हैं। वैसे हिन्दी, संस्कृत, हिस्ट्री, पॉलिटिकल साइंस की पढ़ाई भी होती है। इस वर्ष यहां 746 सीटों पर प्रवेश दिया जाएगा और कुल सीटों की संख्या लगभग 16 सौ हो जाएगी। यहां हिन्दी में एमए की भी व्यवस्था है जिसमें सीटों की संख्या 20 है।

यहां सर्टिफिकेट और डिप्लोमा कोर्स भी हैं

अध्ययन-अध्यापन के साथ-साथ व्यक्तित्व विकास की विभिन्न गतिविधियों के लिए सुविधाएं उलब्ध कराई जाती हैं। कई छोटे-छोटे सर्टिफिकेट और डिप्लोमा कोर्स चलाए जा रहे हैं जिनमें 12वीं के आधार पर प्रवेश होता है। जो छात्रएं नियमित कोर्स में नामांकन नहीं करा पाती हैं, उन्हें नॉनकॉलेजिएट कोर्स का लाभ उठाना चाहिए।
-डॉ. प्रोमोदिनी वर्मा, प्रिंसिपल

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पश्चिमी दिल्ली की छात्राओं को भाता है भारती कॉलेज