DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सिर्फ पांच मिनट तक चली मनमोहन-गिलानी मुलाकात

सिर्फ पांच मिनट तक चली मनमोहन-गिलानी मुलाकात

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और उनके पाकिस्तानी समकक्ष यूसुफ रजा गिलानी के बीच परमाणु सुरक्षा शिखर सम्मेलन के संबंध में आयोजित एक समारोह में संक्षिप्त मुलाकात हुई।
   
सूत्रों ने बताया कि दोनों नेताओं के बीच दक्षेस सम्मेलन से इतर द्विपक्षीय बैठक होने की संभावना है। सम्मेलन 26 अप्रैल से भूटान में आयोजित होने वाला है।

मनमोहन और गिलानी ने एक-दूसरे से हाथ मिलाया और पांच मिनट के लिए एक-दूसरे से बात की। दोनों की यह संक्षिप्त मुलाकात अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा द्वारा सम्मेलन में आए नेताओं के लिए आयोजित भोज समारोह में हुई।

सूत्रों ने बताया कि गिलानी मनमोहन के पास आए। दोनों नेता गर्मजोशी से मिले और दोनों के चेहरों पर मुस्कान थी। दोनों ने एक-दूसरे से हाथ मिलाया। दोनों को एक-दूसरे से किसी विषय पर बात करते देखा गया, लेकिन विषय स्पष्ट नहीं हुआ।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विष्णु प्रकाश ने बाद में पत्रकारों से कहा कि दोनों ने एक-दूसरे से हाथ मिलाया और एक-दूसरे को देख कर खुशी जाहिर की। उन्होंने इससे ज्यादा कोई विवरण नहीं दिया।

सम्मेलन में भाग लेने के लिए वाशिंगटन आए मनमोहन और गिलानी ने कई देशों के नेताओं के साथ बैठकें कीं, लेकिन दोनों नेताओं के बीच कोई सीधी मुलाकात नहीं हुई। दोनों देशों के विदेश सचिवों की फरवरी में बैठक हुई थी, जिसका उद्देश्य दोनों देशों के बीच मुंबई हमलों के कारण आई कड़वाहट को कम करना था।
   
25 फरवरी को हुई वार्ता के बाद भारत ने विदेश सचिव स्तर की वार्ता आगे भी जारी रखने की इच्छा जताई थी, लेकिन पाकिस्तान की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली थी। पाकिस्तान इस बात पर जोर देता आया है कि दोनों देशों के बीच वार्ता समग्र वार्ता के तौर पर होनी चाहिए, जिसे भारत ने मुंबई हमलों के बाद रोक दिया है।

भारत ने समग्र वार्ता की संभावना को तब तक खारिज किया है, जब तक पाकिस्तान मुंबई हमलों के जिम्मेदार लोगों के खिलाफ ठोस और पारदर्शी कार्रवाई नहीं करता। पाकिस्तान ने मुंबई हमलों में शामिल लोगों पर अभियोजन के लिए कुछ कदम उठाए हैं, लेकिन भारत उनसे संतुष्ट नहीं है। 

मनमोहन ने सोमवार को ओबामा से मुलाकात के दौरान कहा था कि मुंबई हमले के जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई के लिए पाकिस्तान में इच्छाशक्ति की कमी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सिर्फ पांच मिनट तक चली मनमोहन-गिलानी मुलाकात