DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एसएससी में इस बार प्रारंभिक परीक्षा भी होगी निर्णायक

अब एसएससी संयुक्त प्रारम्भिक परीक्षा (स्नातक स्तर) की तैयारी कर रहे युवा वर्ग को काफी सावधानी बरतने की जरूरत है। क्योंकि इस बार से प्रारंभिक परीक्षा के अंक मेरिट में निर्णायक साबित होंगे। शिक्षा विशेषज्ञों की मानें तो इस तरह का बदलाव होने के बाद से छात्र-छात्रओं को बदली रणनीति के तहत तैयारी करनी होगी। तैयारी के लिए कुशल अध्यापकों मार्गदर्शन जरूरी होगा।

यह परीक्षा तीन स्तरों की होती है। जिनमें ‘टीयर वन’ को प्रारंभिक परीक्षा और ‘टीयर टू’ मुख्य परीक्षा इसके बाद साक्षात्कार होता है। बालाजी कोचिंग अलीगंज के अजय दुबे और गणित के विशेषज्ञ गोपाल वाजपेई ने बताया कि टीयर वन परीक्षा में युवाओं को गणित, रीजनिंग, इंग्लिश और सामान्य अध्ययन के पचास-पचास प्रश्नों को हल करना होता है। वस्तुनिष्ठ परीक्षा में समय का ध्यान रखने के लिए विषयों का निरंतर अभ्यास करते रहना जरूरी होता है।

इस बार से परीक्षा प्रणाली में बदलावा किया गया है जिसके तहत प्रारंभिक परीक्षा के प्राप्तांक अंतिम मेरिट सूची में जोड़े जाएँगे। जबकि इससे पहले प्रारंभिक परीक्षाओं के अंकों को अंतिम मेरिट सूची में नहीं जोड़ा जाता था। इस बार से परीक्षा में आने वाले गणित के प्रश्न ग्यारहवीं और बारहवीं कक्षा के स्तर के होंगे।

शिक्षा विशेषज्ञ बताते हैं कि टीयर टू की मुख्य परीक्षा की तिथि अभी घोषित नहीं की गई है। मुख्य परीक्षा की तैयारी के लिए अभ्यार्थी को गणित और अंग्रेजी पर अच्छी पकड़ होनी चाहिए। तीसरे व अंतिम चरण में टीयर वन और टीयर टू के सफल अभ्यार्थियों को साक्षात्कार के लिए आमंत्रित किया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एसएससी में इस बार प्रारंभिक परीक्षा भी होगी निर्णायक