DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

केलकुलेटर की गणना से पहले क्वालिफाई करें

केलकुलेटर की गणना से पहले क्वालिफाई करें

हाल के मैचों में उलटे-पुलटे परिणामों ने ज्यादातर टीमों को सेमीफाइनल में जगह बनाने की लाइफलाइन दे दी है। हां, सचिन तेंदुलकर ने एक और शानदार प्रदर्शन कर मुम्बई इंडियंस को सेमीफाइनल में पहुंचा दिया है। वैसे, जिस तरह की स्थितियां चल रही हैं उससे सेमीफाइनल के शेष तीन स्थानों के लिए छह टीमों के पास तो अभी भी मौके हैं। हां, इसके लिए अब इन टीमों के बीच जोरदार टक्कर होना तय है।

मंगलवार को हमारा सामना कोलकाता नाइटराइडर्स से है और हम यह भी जानते हैं कि यहां से एक भी मैच हारना हमारे रास्ते बंद कर देगा। हमारी टीम ने अब तक काफी उतार-चढ़ाव देखे हैं लेकिन अब असली मुकाबले का वक्त आ गया है। नागपुर में खेले गए अपने पिछले मैच में डेक्कन चार्जर्स से हार में जो गलतियां हमने की थीं उन पर ध्यान केन्द्रित करते हुए हम अगले मुकाबले में उतरेंगे। अच्छी बात यह है कि अन्य तीन दावेदारों से हमारा नेट रन-रेट बेहतर है। लेकिन मैं यही चाहता हूं कि हमारी टीम कैलकुलेटर से गणना का वक्त आने से पहले ही सेमीफाइनल के लिए क्वालिफाई करे।

नागपुर मैच के बारे में बात करते हैं। हमें आगाज अच्छा मिला लेकिन अच्छे आगाज के बाद पारी के दूसरे हाफ में हमारी बल्लेबाजी भरभरा गई। डेक्कन के गेंदबाजी की शानदार गेंदबाजी के आगे हमारा मध्यक्रम नतमस्तक हो गया। और एक बार जब बल्लेबाज बोर्ड पर ज्यादा रन खड़ा करने में असफल रहे तो हमारे गेंदबाजों के लिए भी मुश्किल होना स्वाभाविक था। लेकिन टी. सुमन ने अच्छी बल्लेबाजी की और एंड्रयू सायमंड्स ने पारी के अंतिम ओवरों में कुछ लम्बे-लम्बे छक्के लगा मैच हमारी पहुंच से बाहर कर दिया।

मुझे पता है कि कुछ लोग यही सवाल कर रहे होंगे कि हमने फिरकी की मददगार पिच पर मुथैया मुरलीधरन को एकादश से बाहर क्यों रखा? मुरली के स्थान पर जिसे मौका मिला था वे थे आर. अश्विन और जब आप उसकी गेंदबाजी (4 ओवर में 12 रन पर 2 विकेट) नजर दौड़ाएंगे तो पाएंगे कि उनसे अच्छी गेंदबाजी और किसी ने नहीं की। अब हमारे पास अपने मैदान पर वापसी करने का एडवांटेज होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:केलकुलेटर की गणना से पहले क्वालिफाई करें