DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सपा की ताकत में पिछड़ों का सम्मान सुरिक्षत : अखिलेश

समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि सपा और पिछड़ी जातियों का स्वाभाविक संबंध है। इन समाजों का सम्मान सपा को ताकत पहुँचाने से ही सुरक्षित रहेगा। उन्होने भरोसा दिलाया कि सपा समाज के इस तबके से संवाद का सिलसिला जारी रखेगी और उन्हें शासन, सत्त व संगठन में भरपूर प्रतिनिधित्व देगी।

सोमवार को यहाँ चौहान और पाल समाज के प्रमुख नेताओं की संयुक्त बैठक में सपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि सपा को फिलहाल कांग्रेस और बसपा दोनों की सरकारों से जूझना पड़ रहा है। चूँकि सपा को  पिछड़ों, अल्पसंख्यकों और गरीबों का समर्थन हासिल है, इसलिए उसे तोड़ने के लिए साजिशन मौजूदा स्वरूप में महिला आरक्षण बिल लाया गया है।

सपा ने इसका पुरजोर विरोध कर पिछड़ों को उनका हक दिलाने की लंबी लड़ाई छेड़ी है क्योंकि पिछड़ों को बसपा-कांग्रेस-भाजपा सभी ने धोखा दिया है। आगामी चुनाव में मत चूको चौहान की तर्ज पर सपा को सत्ता सौंपने के लिए एकजुट होकर जिम्मेदारी सभी वगरें को निभानी चाहिए। यह बताने का वक्त आ गया है कि सपा से ही पिछड़ों की पहचान होती है।

बैठक में बसपा सरकार पर जमकर बरसते हुए श्री यादव ने कहा कि प्रदेश में इस समय लूट मची है।  इस तस्वीर को बदलने की क्षमता सिर्फ सपा में ही है। सपा के प्रदेश प्रवक्ता राजेन्द्र चौधरी ने बताया कि बैठक में पार्टी के प्रदेश महासचिव ओमप्रकाश सिंह, रामाज्ञा चौहान, विजय बहादुर पाल, समर सिंह चौहान, इन्द्रपाल सिंह, अवधनाथ पाल, प्रसिद्घ नारायण सिंह चौहान समेत कई अन्य नेता मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सपा की ताकत में पिछड़ों का सम्मान सुरिक्षत : अखिलेश