DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रांदेयू ने मोदी पर दी मुकदमा करने की धमकी

रांदेयू ने मोदी पर दी मुकदमा करने की धमकी

ललित मोदी को इंडियन प्रीमियर लीग से हाल में जुड़े रांदेयू स्पोर्ट वर्ल्ड (आरएसडब्ल्यू) के मालिकों की सूची टिवटर पर जारी करना महंगा पड़ सकता है कि क्योंकि टीम कोच्चि के मालिकों ने गोपनीयता की शर्तों का उल्लंघन करने के लिए आईपीएल आयुक्त के खिलाफ मुकदमा ठोकने की धमकी दी है।

मोदी ने रांदेयू में हिस्सा रखने वाले लोगों के नामों को उजागर किया है जिन्होंने कोच्चि फ्रेंचाइजी को लगभग 1533 करोड़ रुपये में खरीदा। मोदी के इस कदम से विदेश राज्यमंत्री शशि थरूर बेहद खफा हैं क्योंकि इस सूची में सुनंदा पुष्कर का भी नाम है जिनसे रिपोर्टों के अनुसार वह शादी करने वाले हैं।

इस खुलासे से नाराज रांदेयू ने मोदी को कानूनी नोटिस भेजने की धमकी दी और आईपीएल आयुक्त पर गोपनीयता की शर्तों को तोड़ने का आरोप लगाया। कोच्चि फ्रेंचाइजी ने इस संबंध में बीसीसीआई अध्यक्ष शशांक मनोहर से भी शिकायत की है। मोदी ने अपने टिवटर पेज पर लिखा है कि कोच्चि फ्रेंचाइजी में जो लोग हिस्सेदार हैं उनमें किसन शैलेंदर और पुष्पा गायकवाड़, सुनंदा पुष्कर, पूजा गुलाटी, जयंत कोटालवार, विष्णु प्रसाद और संदीप अग्रवाल शामिल हैं।

मीडिया रिपोर्टों ने कहा कि थरूर ने कश्मीरी लड़की सुनंदा पुष्कर के सामने शादी का प्रस्ताव रखा है। वह ब्यूटीशियन हैं और दुबई में स्पा चलाती हैं। मोदी ने लिखा है कि कोच्चि टीम के हिस्सेदारों और उससे संबंधित कई बातें की जा रही थी। मैं जल्द ही नोट तैयार कर रहा हूं और शीघ्र ही आधिकारिक विज्ञप्ति जारी कर दूंगा।
 
आईपीएल प्रमुख ने संकेत दिए कि उन पर रांदेयू से जुड़े लोगों के नामों का खुलासा नहीं करने का दबाव था। इस खुलासे से थरूर नए विवाद में पड़ सकते हैं। उन्होंने कहा कि मुझसे यह नहीं बताने के लिए कहा गया था कि रांदेयू में किसका हिस्सा है विशेषकर सुनंदा पुष्कर के बारे में।
 
मोदी के इस टवीट से थरूर नए विवाद में पड़ सकते हैं क्योंकि केंद्रीय मंत्री ने दावा किया था कि कोच्चि फ्रेंचाइजी में उनका कोई हिस्सा नहीं है। थरूर ने टीमों की नीलामी के बाद कहा था कि मैंने जरूरत पड़ने पर बोली लगाने वालों को अपनी विशेषज्ञ राय और दुआएं दी। इसके अलावा मेरी इसमें कोई भूमिका नहीं है। यह बिजनेस से जुड़े लोगों का समूह है और मैं समझता है कि यह बिजनेस से जुड़ा फैसला ही है।
 
रांदेयू ने मोदी के खुलासे पर कड़ी प्रतिक्रिया दी और इस पर भी वह सहमत नहीं है कि सुनंदा का फ्रेंचाइजी में 18 प्रतिशत हिस्सा है। सूत्रों के अनुसार कोच्चि फ्रेंचाइजी चाहती है कि मोदी अन्य फ्रेंचाइजी जैसे कि राजस्थान रायल्स और किंग्स इलेवन पंजाब के हिस्सेदारों के हिस्से का भी खुलासा करें।

रांदेयू के सूत्रों ने कहा कि मोदी आगे के आईपीएल सत्रों के लिए अहमदाबाद की टीम चाहते थे और इसलिए कोच्चि टीम के लिए समस्याएं खड़ी कर रहे हैं। आईपीएल 2011 में कोच्चि और पुणे दो नई टीमें होंगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:रांदेयू ने मोदी पर दी मुकदमा करने की धमकी