DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब हवा-हवाई नहीं हो पाएँगी ग्राम सभा की बैठकें

यूपी की ग्राम सभाओं के काम-काज के नियमों में खासा बदलाव होगा। अब बैठक  आनन-फानन में नहीं बल्कि पहले से तय तारीख पर होगी। बैठक का कोरम 20 प्रतिशत से बढ़ाकर 40 प्रतिशत कर दिया जाएगा। इस सम्बंध में प्रदेश सरकार ने एसएटी रिजवी की अध्यक्षता वाले तृतीय राज्य आयोग की सिफारिशों पर सहमति दे दी है और पंचायतीराज विभाग से मंत्रिपरिषद से निर्णय कराने को कहा है।

आयोग ने कहा है कि सामाजिक न्याय से सम्बन्धित विभिन्न स्कीमों के अन्तर्गत लाभार्थियों का चयन एक विशिष्ट बैठक में किया जाए। इसमें निर्धनतम वर्गो के अधिकांश व्यक्तियों की उपस्थिति सुनिश्चित करने, उनको इसके लिए उस दिन पारिश्रमिक का भुगतान किए जाने और उनकी सुरक्षा के लिए पुलिस की व्यवस्था करने का प्रावधान भी करने को कहा गया है। आयोग ने कहा है कि बैठकों के लिए दिन/तारीख तय हो जाने पर उसे  पंचायत भवन के बाहरी दीवार पर प्रचारित किया जाए।

कोरम के लिए उपस्थिति का पैमाना 40 फीसदी करने के अलावा आयोग ने बैठक स्थगित होने की स्थिति में कोरम की आवश्यकता न होने के प्रावधान को समाप्त करने की सिफारिश करते हुए कहा है कि इससे ग्राम प्रधानों को बैठकों के आयोजन को मनमाफिक प्रभावित करने का मौका नहीं मिल पाएगा। आयोग ने कहा है कि बैठक में मौजूद किसी भी सदस्य द्वारा कोई भी सूचना माँग सकने और उसे बैठक में ही वह मुहैया कराने का प्रावधान हो। अगर ऐसा संभव न हो तो सूचना लिखित रूप से उसके घर पर पहुँचाई जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अब हवा-हवाई नहीं हो पाएँगी ग्राम सभा की बैठकें