DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एबीएस को जीआरई स्कोर प्रयोग करने की मान्यता

आर्यन्स बिजनेस स्कूल (एबीएस) को एक और नई मंजिल हासिल करने में सफलता मिली है। एजुकेशन टेस्टिंग सर्विस (ईटीएस), न्यू जर्सी ने एबीएस को ग्रेजुएशन रिकार्ड एग्जामिनेशन (जीआरई) स्कोर का प्रयोग करने की मान्यता प्रदान कर दी है। यह जानकारी रविवार को आर्यन्स ग्रुप के चेयरमैन डॉ. अंशु कटारिया ने दी।

डॉ. कटारिया ने कहा कि यह आर्यन्स ग्रुप ऑफ कॉलेजेस (एजीसी) की टीम और विद्यार्थियों के पिछले तीन सालों की कड़ी मेहनत का परिणाम है। उन्होंने इस उपलब्धि के लिए अपने साथियों को बधाई दी। डॉ. कटारिया ने यह भी कहा कि हर बिजनेस स्कूल का सपना होता है कि वह दुनिया के बेहतरीन एंट्रेंस टेस्ट जी मैट, जीआरई, कैट आदि से जुड़े ताकि वह एडमिशन के लिए गुणवान विद्यार्थी प्राप्त कर सके। यह कैंपस प्लेसमेंट के लिए नेशनल और इंटरनेशनल कंपनियों को आकर्षित करने में भी मदद करती है।

डॉ. कटारिया ने कहा कि कैट, जी मैट और जीआरई स्कोर का प्रयोग करने की मंजूरी के साथ अब चंडीगढ, पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश और जम्मू-कश्मीर के विद्यार्थी चंडीगढ़ में ही अपनी पसन्द का कैट, जी मैट और जीआरई मान्यता प्राप्त बी-स्कूल का चुनाव कर पाएंगे। उन्हें इसके लिए मुंबई, कोलकाता, अहमदाबाद, दिल्ली, पुणे आदि शहरों में नहीं जाना पड़ेगा।

देश में अब तक 15 बी स्कूलों/यूनिवर्सिटियों जिनमें आईआईएम और आईएसबी आदि शामिल है, को जीआरई स्कोर का प्रयोग करने की अनुमति है। अब तक उत्तर भारत में केवल एबीएस ही ऐसा प्राईवेट बी-स्कूल है जिसे ग्रेजुएट मैनेजमेंट एडमिशन काउंसिल, यूएसए आईआईएम और एजुकेशन टेस्टिंग सर्वसि (ईटीएस), यूएसए से जी-मैट, कैट और जीआरई स्कोर प्रयोग करने की अनुमति प्राप्त है।

जीआरई दुनिया भर में ग्रेजुएट प्रोग्राम, बिजनेस स्कूल और फेलोशिप के लिए प्रवेश द्वार है। हर वर्ष लगभग 230 देशों में छह लाख से ज्यादा ग्रेजुएट स्कूल एप्लीकेंट जीआरई जनरल टेस्ट देते है। जीआरई जनरल टेस्ट 3200 से ज्यादा ग्रेजुएट और बिजनेस स्कूलों द्वारा स्वीकार किया जाता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एबीएस को जीआरई स्कोर प्रयोग करने की मान्यता