DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मनमोहन-ओबामा ने संबंध मजबूत करने की प्रतिबद्धता जताई

मनमोहन-ओबामा ने संबंध मजबूत करने की प्रतिबद्धता जताई

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने भारत-अमेरिका द्विपक्षीय संबंध मजबूत करने की प्रतिबद्धता जताई है। दोनों नेताओं ने मुलाकात के दौरान अफगानिस्तान और परमाणु आतंकवाद समेत कई द्विपक्षीय मुद्दों पर चर्चा की।

मनमोहन की ओबामा से मुलाकात के बाद व्हाइट हाउस ने एक वक्तव्य में कहा दोनों नेताओं ने मुलाकात के दौरान दोनों देशों के लोगों के बीच संबंध मजबूत करने और इस प्रक्रिया में अगला कदम साबित होने वाली भारत-अमेरिका रणनीतिक वार्ता के लिए प्रतिबद्धता जताई।

इसके पहले अमेरिकी राष्ट्रपति ओबामा भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन से मुलाकात के लिए व्हाइट हाउस से ब्लेयर हाउस गए। मनमोहन 47 देशों के परमाणु सुरक्षा सम्मेलन में भाग लेने के लिए अमेरिका आए हैं।

व्हाइट हाउस ने अपने वक्तव्य में कहा दोनों नेता इस बात पर सहमत हुए कि दोनों देश वैश्विक विकास के मुद्दों, जैसे आर्थिक आधारभूत संरचना, खाद्य सुरक्षा और गरीबी उन्मूलन पर मिल कर काम करेंगे।

वक्तव्य के मुताबिक दोनों नेताओं ने इस दौरान अफगानिस्तान की स्थिति पर भी बात की। दोनों ने मजबूत, स्थिर और समृद्ध दक्षिण एशिया के निर्माण के लिए अपने विचार आपस में बांटे। वक्तव्य में कहा गया है कि राष्ट्रपति ओबामा ने अफगानिस्तान में भारत द्वारा जारी मानवीय और विकास कार्यों में सहायता का स्वागत किया।

वक्तव्य के अनुसार राष्ट्रपति ओबामा ने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का परमाणु सुरक्षा सम्मेलन में आने और सम्मेलन को सफल बनाने में भारत की भूमिका पर उनका धन्यवाद दिया।

व्हाइट हाउस ने अपने वक्तव्य में कहा कि दोनों नेताओं ने कई स्थानीय और वैश्विक मुद्दों के बारे में बात की, जिसमें आतंकवाद-निरोध और अप्रसार प्रमुख हैं। वक्तव्य के मुताबिक ओबामा ने वर्ष 2010 में भारत जाने की प्रतिबद्धता एक बार फिर दोहराई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मनमोहन-ओबामा ने संबंध मजबूत करने की प्रतिबद्धता जताई