DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दो टूक (सोमवार, 12 अप्रैल 2010)

गर्मी समय से पहले अपने तेवर दिखाने लगी है। मैदान के साथ-साथ उत्तर के पहाड़ भी तप रहे हैं। चढ़ते पारे के साथ बिजली और पानी का संकट समूचे उत्तर भारत को धीमे-धीमे अपनी गिरफ्त में ले रहा है। आने वाले दिनों में जलवायु परिवर्तन और ग्लोबल वार्मिग पर ठंडे कमरों में गर्मा-गर्म बहसें होंगी। लेकिन देश की बड़ी आबादी लू और बीमारियों की चपेट से बचने के इंतजाम तलाशती नजर आएगी। देखा जाय तो यही हमारे राज-काज की परीक्षा का भी वक्त होता है। सब कुछ सामान्य हो तो आम आदमी किसी तरह दिन काट लेता है। मुसीबत तब आती है, जब कुदरत अपने तेवर बदलती है। गर्मी का उछाल क्या हमारी अर्थव्यवस्था के उछाल की भी अग्निपरीक्षा लेगा?

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दो टूक (सोमवार, 12 अप्रैल 2010)