DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सचिन के ब्लास्ट से मुंबई सेमीफाइनल में

सचिन के ब्लास्ट से मुंबई सेमीफाइनल में

सचिन तेंदुलकर की आतिशी पारी के बाद गेंदबाजों के सधे हुए प्रदर्शन की बदौलत मुंबई इंडियंस ने राजस्थान रायल्स को आईपीएल थ्री के मुकाबले में रविवार को 37 रन से हराते हुए सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया।

राजस्थान की टीम 175 रन के लक्ष्य के सामने 20 ओवर में आठ विकेट खोकर 137 रन बना सकी। उसकी ओर से एडम वोग्स ने सर्वाधिक 28 रन बनाए जबकि अन्य बल्लेबाज कम स्कोर पर पवेलियन लौटे। मुंबई की ओर से जहीर खान ने सर्वाधिक दो विकेट लिए।
 
इससे पहले कप्तान सचिन तेंदुलकर की 59 गेंद में 89 रन की नाबाद पारी से मुंबई इंडियंस ने पांच विकेट पर 175 रन का प्रतिस्पर्धी स्कोर खड़ा किया। तेंदुलकर ने आक्रामकता और सतर्कता के बेहतर संयोजन से 10 चौके और दो छक्के जड़कर टूर्नामेंट में अपनी पांचवीं अर्धशतीय पारी खेली, जो उनका आईपीएल में सर्वाधिक स्कोर भी है।

इस बार फिर मुंबई की पारी तेंदुलकर के इर्द गिर्द रही, उन्होंने चौथे विकेट के लिए जेपी डुमिनी (32 गेंद में 31) के साथ महत्वपूर्ण 63 रन जोड़े और इसके बाद किरोन पोलार्ड (13 गेंद में 25 रन) के साथ 50 रन की भागीदारी कर अंक तालिका में शीर्ष पर चल रही टीम को चुनौतीपूर्ण स्कोर तक पहुंचाया। एक वक्त टीम ने 30 रन पर तीन विकेट गंवा दिए थे। राजस्थान रायल्स की ओर से शेन वाटसन ने 37 रन देकर तीन विकेट चटकाए।

टॉस जीतकर क्षेत्ररक्षण करने के बाद वाटसन ने राजस्थान को पारी के दूसरे और अपने पहले ओवर में सनत जयसूर्या और अंबाती रायडू के रूप में बेहतरीन विकेट दिलाए। जयसूर्या की वापसी अच्छी नहीं रही और यह श्रीलंकाई बल्लेबाज केवल दो गेंद खेलकर आउट हो गया। उन्होंने वाटसन की गेंद को बल्ले से छुआ दिया, जिसे अभिषेक झुनझुनवाला ने लपकने में कोताही नहीं बरती।

जल्दी-जल्दी तीन विकेट गिर जाने के बाद सचिन ने डुमिनी के साथ संभलकर खेलना शुरू किया। दोनों बल्लेबाजों ने चौथे विकेट के लिए 63 रन की साझेदारी कर टीम को संकट से उबार लिया। डुमिनी ने बेहतरीन खेल का प्रदर्शन करते हुए 32 गेंदों में चार चौकों की मदद से 31 रन बनाए। हालांकि बाद में तेजी से रन बनाने के चक्कर में वह आउट हो गए।

डुमिनी के आउट होने के बाद किरोन पोलार्ड (25) ने सचिन के साथ कमान संभाली। सचिन और पोलार्ड की जोड़ी ने राजस्थानी गेंदबाजों की धुनाई करते हुए रन बटोरे। दोनों बल्लेबाजों ने चौथे विकेट के लिए तेजी से 50 रन जोड़कर टीम के स्कोर 150 के करीब पहुंचा दिया।

हालांकि पोलार्ड एक बार फिर बड़ी पारी खेलने में असफल रहे और 13 गेंदों में तीन चौकों और एक छक्के की मदद से 25 रन बनाकर पांचवें विकेट के रूप में आउट हुए। उनका विकेट 18वें ओवर में गिरा। इसके बाद सचिन ने अंतिम दो ओवरों में ताबड़तोड़ बल्ला घुमाते हुए रनों की बरसात कर दी। उन्होंने शेन वाटसन के 19वें ओवर में लगातार दो चौके लगाए। मुंबई ने अंतिम दो ओवर में 31 रन बनाए। राजस्थान की तरफ से वाटसन ने सर्वाधिक तीन विकेट लिए जबकि सिद्धार्थ त्रिवेदी और आदित्य डोले को एक-एक विकेट मिला।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सचिन के ब्लास्ट से मुंबई सेमीफाइनल में