DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ऑफिस कार्यनीति

याद करें पिछली बार आपने ऑफिस में कोई निर्णय लेते समय अपने स्कूल में पढ़े नैतिक मूल्यों को याद किया था? हो सकता है कि आपको यह बात मजाक लग रही हो, लेकिन यदि आप थोड़ा गंभीर होकर सोचेंगे तो यह बात आपको मजाक नहीं लगेगी। कई ऐसे तरीके हैं जब आप विपरीत परिस्थितियों में भी अपने नैतिक मूल्य व सिद्धांतों के आधार पर खुद को आश्वस्त कर सकते हैं।
जवाबदेही: किसी ऑफर को स्वीकार करते समय हम अक्सर बाजार में प्रचलित दरों की बात करते हैं, पर जब नौकरी कर रहे होते हैं, तो अक्सर अपने हिस्से की जिम्मेदारियों को भूल जाते हैं। जरूरी है कि यह सुनिश्चित करें कि हम काम और कंपनी के प्रति समर्पित और पूरी तरह गंभीर हैं।
कार्य सौंपना: काम के सही प्रबंधन के लिए उसे दूसरों को सौंपना जरूरी है। पर इसका मतलब यह नहीं कि खुद काम न करें। अंतिम जिम्मेदारी स्वीकार करने से पीछे न रहें। साथ ही अपने अधीनस्थों द्वारा किए गए काम में अपना अनुभव और कौशल जोड़ने से पीछे ना हटें।
एटीट्य़ूड: सकारात्मक एटीटय़ूड बेहद जरूरी है। आपकी शिक्षा आपको एक अच्छा कर्मचारी बनाने में सक्षम होनी चाहिए। ऐसा नहीं कि जैसे-जैसे आप आगे बढ़ते रहें, वैसे आप एक निर्दयी और कठोर इंसान में तबदील हो जाएं। आचरण विनम्र रखें। अपना ज्ञान दूसरों के साथ खुलकर शेयर करें। 
अनुकूलता: आपको अपने संस्थान में सबसे सोहार्दपूर्ण व्यक्ति या अनुकूल व्यक्ति के तौर पर जाना जाए जिससे सभी बात करना या काम की मदद लेना पसंद करें। विश्वास करें कि सबसे अच्छा अनुभव लोगों के साथ रहने पर मिलता है। अत: यह सुनिश्चित करें कि आपका नेटवर्क अच्छा हो और आप लोगों के बीच रहना पसंद करते हों।
लगन: याद रखें यह लगन ही है जो आपको जीवन के किसी भी कार्य में सफलता दिलाती है। बिना लगन के बेमन से किया गया कार्य अपने और दूसरों के लिए बोझ बन कर रह जाता है। इसलिए अपनी धुन के पक्के रहें और कार्य के प्रति लगन को मद्धिम न पड़ने दें।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ऑफिस कार्यनीति