DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डेक्कन के लिए करो या मरो का मुकाबला

डेक्कन के लिए करो या मरो का मुकाबला

इंडियन प्रीमियर लीग के सेमीफाइनल में प्रवेश की उम्मीदें बनाए रखने के लिए गत चैम्पियन डेक्कन चार्जर्स को सोमवार को रायल चैलेंजर्स बेंगलूर के खिलाफ मैच में हार हालत में जीत दर्ज करनी होगी।

चार्जर्स इस समय सातवें स्थान पर है जिसके अंक कोलकाता नाइट राइडर्स और चेन्नई सुपर किंग्स के समान है लेकिन रनरेट में वह इनसे नीचे है। दूसरी ओर बेंगलूर मुंबई इंडियंस के बाद दूसरे स्थान पर है। उसके दिल्ली डेयरडेविल्स और राजस्थान रायल्स के समान अंक है लेकिन रनरेट में वह आगे है।

लगातार पांच मैच हारने के बाद डेक्कन ने बेंगलूर और चेन्नई को हराकर सेमीफाइनल की उम्मीदें बरकरार रखी। डेक्कन के कप्तान एडम गिलक्रिस्ट ने कल मैच के बाद कहा कि हमारे लिए कुछ नहीं बदला है। हमें जीत की लय कायम रखनी होगी।

बेंगलूर ने भी लगातार दो मैच हारने के बाद कल कोलकाता नाइट राइडर्स को हराकर वापसी की। कुछ दिन पहले ही बेंगलूर और डेक्कन के बीच हुए मैच में गिलक्रिस्ट की टीम ने 184 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए जीत दर्ज की थी।

डेक्कन की ताकत उसकी मजबूत बल्लेबाजी है लेकिन अभी तक उसके बल्लेबाज लगातार अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं। अच्छी शुरूआत मिलने पर उन्होंने हमेशा बड़ा स्कोर बनाया है। एंड्रयू साइमंड्स फार्म में है लेकिन हर्शल गिब्स नहीं चल पाए हैं।

डेक्कन की गेंदबाजी औसत रही है लेकिन आस्ट्रेलिया के रियान हैरिस के आने से आक्रमण धारदार हुआ है। हैरिस को चेन्नई के खिलाफ मैन आफ द मैच चुना गया जिसने तीन विकेट चटकाए थे। हरमीत सिंह भी अच्छी गेंदबाजी कर रहे हैं लेकिन आरपी सिंह ने निराश किया है।

दूसरी ओर बेंगलूर के पास जाक कैलिस, राहुल द्रविड़ और राबिन उथप्पा के अलावा केविन पीटरसन जैसा बल्लेबाज है। वहीं गेंदबाजी में अनिल कुंबले और डेल स्टेन ने जिम्मा संभाल रखा है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डेक्कन के लिए करो या मरो का मुकाबला