DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चावल जिसे बिना पकाए खा सकते हैं आप

भागदौड़ की इस जिंदगी में लोग फास्ट़-फूड संस्कृति को अपना रहे हैं। ऐसे में उड़ीसा के वैज्ञानिकों ने चावल की एक ऐसी किस्म विकसित की जिसे बिना उबाले खाया जा सकता है।

कटक के केन्द्रीय चावल अनुसंधान संस्थान में चावल की एक नयी किस्म अघोनीबोरा विकसित की गई है जिसे पानी में आधे घंटे भिगोने की जरूरत पड़ती है जिसके बाद यह खाने योग्य हो जाता है।

कोमल सौल या मुलायम चावल की इस किस्म को मूल रूप से असम के तीताबार चावल अनुसंधान केन्द्र से प्राप्त किया गया और चावल की इस किस्म में एमीलूज की मात्रा बहुत कम करीब 4.5 प्रतिशत है।

वहीं चावल की अन्य किस्मों में एमीलूज की मात्रा 20 से 25 प्रतिशत तक होती है जिससे चावल सख्त रहता है।

सीआरआरआई के बायोकेमिस्ट्री, प्लांट फिसियोलाजी एंड एनवार्यनमेंटल साइंसेज विभाग के प्रमुख श्रीगोपाल शर्मा ने कहा कि चूंकि इस किस्म में बहुत कम मात्रा में एमीलूज है, इसे उबालने की जरूरत नहीं पड़ती। इसे आप पानी में आधे घंटे भिगोकर खा सकते हैं। अगर पानी गुनगुना है तो इसे 15.20 मिनट में तैयार किया जा सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चावल जिसे बिना पकाए खा सकते हैं आप