DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूपीएफए की जीत लोकतंत्र की विजय है: राजपक्षे

यूपीएफए की जीत लोकतंत्र की विजय है: राजपक्षे

श्रीलंका के राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे ने अपने गठबंधन की जीत को लोकतंत्र की जीत करार दी जबकि उनकी पार्टी के कार्यकर्ताओं का उत्साह चरम पर है और सहयोगियों ने देश भर में रैलियां निकाली है।

देश के संसदीय चुनावों के लिए आठ अप्रैल को मतदान हुए थे। शुक्रवार को जारी नतीजों में राजपक्षे के गठबंधन यूपीएफए को 117, विपक्ष के यूएनएफ को 46 और लिट्टे समर्थक टीएनए को 12 सीटें प्राप्त हुई और वहीं सेना के पूर्व अध्यक्ष सरत फोंसेका नीत डीएनए गठबंधन को महज पांच सीटों पर सफलता हाथ लगी।
उल्लेखनीय है कि 225 सदस्यीय संसद में से त्रिंकोमाली और कैंडी जिलों सहित 45 सीटों के परिणाम अभी घोषित नहीं हुए हैं।

इस जीत के लिए देशवासियों के प्रति आभार व्यक्त करते हुए राजपक्षे ने कहा कि यह लोकतंत्र की विजयश्री है । इससे स्पष्ट हो गया है कि लोगों फिर से मुझ पर, महिंदा चिंतन और यूपीएफ पर भरोसा जताया है। राष्ट्रपति ने शुक्रवार रात कहा कि लोगों जिस प्रकार भारी मतों से हमें जीत दिलाई है हम इसे विनम्रता से लेते हैं और लोगों के भरोसे पर खरा उतरने का संकल्प व्यक्त करते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:यूपीएफए की जीत लोकतंत्र की विजय है: राजपक्षे