DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अंबेडकरनगर बना कांग्रेस-बसपा के बीच संघर्ष का मैदान

दलित वोट बैंक पर कब्जे को लेकर उत्तर प्रदेश का अंबेडकरनगर जिला कांग्रेस और राज्य में सत्तारूढ़ बहुजन समाज पार्टी के बीच संघर्ष का केन्द्र बन गया है। बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की जयंती 14 अप्रैल को कांग्रेस और बसपा दोनो ही अति पिछड़ी जाति बाहुल्य वाले इस जिले में रैली कर रहे हैं। कांग्रेस की रैली को पार्टी महासचिव राहुल गांधी संबोधित करेंगे।

राहुल गांधी दस संदेश यात्राओं को भी हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे। कांग्रेस के 125 साल पूरे होने पर यह संदेश यात्राएं निकाली जा रही हैं। उत्तर प्रदेश में कांग्रेस महासचिव के मिशन 2012 के तहत उत्तर प्रदेश में अंबेडकरनगर जिले को इसके लिए चुना गया है।

राज्य में विधानसभा के चुनाव 2012 में प्रस्तावित हैं। कांग्रेस की संदेश यात्रा सभी 71 जिलों के 403 विधानसभा क्षेत्र में जाएगी। सभी विधानसभा क्षेत्र में रैली होगी जिसे पार्टी के वरिष्ठ नेता संबोधित करेंगे। संदेश यात्रा का दूसरा चरण महात्मा गांधी के जन्मदिन दो अक्टूबर से शुरू होगा और इसका समापन इलाहाबाद में 14 नवम्बर को किया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अंबेडकरनगर बना कांग्रेस-बसपा के बीच संघर्ष का मैदान