DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रिजर्व बैंक ने आधार दर के लिए जारी किए दिशा-निर्देश

रिजर्व बैंक ने आधार दर के लिए जारी किए दिशा-निर्देश

रिजर्व बैंक ने कहा है कि नई बेंचमार्क उधारी दर प्रणाली (आधार दर) एक जुलाई से प्रभावी होगी, लेकिन नई व्यवस्था को अंतिम रूप देने के लिए बैंकों को 31 दिसंबर तक का समय दिया है।
   
बैंकों ने रिजर्व बैंक की इस पहल का यह कहते हुए स्वागत किया कि इससे उन्हें बेहतर ढंग से नया तरीका अपनाने में मदद मिलेगी। इससे पहले बैंकों को नई प्रणाली एक अप्रैल से अपनाने के लिए तैयार रहने को कहा गया था। बैंकों की ओर से मांग किए जाने के बाद रिजर्व बैंक ने इसे एक जुलाई तक के लिए टाल दिया।

रिजर्व बैंक ने साफ किया है कि नई प्रणाली एक जुलाई से बीपीएलआर का स्थान लेगी। हालांकि उसने बैंकों को और छह महीने का समय दिया, जिससे वे आधार दर की गणना की पद्धति में बदलाव को अपना सकें।

आरबीआई ने कहा कि आधार दर की गणना करते समय जमा की लागत और नेटवर्थ पर औसत रिटर्न जैसे कारकों को ध्यान में रखा जाएगा।
   
रिजर्व बैंक ने कहा कि प्रस्तावित आधार दर सभी नए ऋणों एवं मौजूदा ऋणों पर लागू होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:रिजर्व बैंक ने आधार दर के लिए जारी किए दिशा-निर्देश