DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूएई में हजारों भारतीयों पर बेरोजगारी का खतरा

यूएई में हजारों भारतीयों पर बेरोजगारी का खतरा

संयुक्त अरब अमीरात ने विदेशियों द्वारा चलाए जा रहे सभी टाइपिंग सेंटर बंद करने का फैसला किया है, जिससे प्रवासी भारतीयों समेत हजारों लोगों पर बेरोजगार होने का खतरा मंडरा रहा है।

श्रम मंत्रालय के कार्यवाहक महानिदेशक हुमैद बिन दीमास ने गल्फ न्यूज को बताया कि जनता को मंत्रालय की सेवाएं उपलब्ध कराने वाले टाइपिंग सेंटरों को बंद कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा देश में 5000 टाइपिंग सेंटर हैं और हमने पाया कि इनमें से कुछ मंत्रालय की सेवाओं का किसी न किसी तरह से दुरुपयोग कर रहे हैं। इसलिए हमने सभी केंद्रों को बंद करने का फैसला किया है।

दीमास ने कहा कि विदेशियों को ऐसे केंद्र चलाने की इजाजत नहीं दी जाएगी। उन्होंने बताया कि इनके स्थान पर नए निजी केंद्र खोले जाएंगे, जिनका मंत्रालय से कोई संबंध नहीं होगा। हालांकि इन सेंटरों को मिलने वाली फीस का एक हिस्सा मंत्रालय को भी दिया जाएगा।

सरकार के इस फैसले से हजारों प्रवासियों का रोजगार छिन जाएगा। इनमें बड़ी संख्या में भारतीय भी शामिल हैं। ये केंद्र मुख्यतः श्रमिकों और कंपिनयों के लिए परमिट, लेबर कार्ड आदि के आवेदन पत्र भरने का काम करते हैं और मंत्रालय की ओर से आवेदन फीस लेते हैं। अकेले शारजाह में ही ऐसे 3000 टाइपिंग सेंटर हैं जो सरकार के इस फैसले से प्रभावित होंगे। शारजाह में श्रम मंत्रालय ने बिना किसी नोटिस के अपने ऑनलाइन कनेक्शन बंद कर दिए और घोषणा कर दी कि केवल एक टाइपिंग सेंटर उसके आवेदनों को संभालेगा। कल्बा और खोर फक्कन में भी गत 10 मार्च से मंत्रालय ने अपनी आनलाइन प्रणाली को बंद कर दिया।

एक सेंटर के मालिक ने कहा कि सरकार के इस कदम से 12 हजार से ज्यादा लोगों की नौकरियां चली जाएंगी। एक अन्य सेंटर के मालिक ने कहा कि हमें इस बारे में न कोई सूचना दी गई। न कुछ करने का मौका दिया गया। मंत्रालय ने सारा काम एक निजी टाइपिंग सेंटर को सौंप दिया है, जिसका संचलान एक व्यक्ति के हाथ में है। उन्होंने कहा कि हमारा काम छिन जाएगा। यहां हमारे परिवार हैं, बच्चे हैं जो स्कूल जाते हैं। उनके प्रति हमारी जिम्मेदारियां हैं।

इसके बाद भारतीयों के बड़ी संख्या में यहां से लौटने की आशंका जताई जा रही है, जिसका असर रियल एस्टेट, बार, रेस्टोरेंट जैसे अन्य व्यवसायों पर भी पड़ेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:यूएई में हजारों भारतीयों पर बेरोजगारी का खतरा