DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

2014 तक बनेंगे 500 संचार ट्रांसपोंडरः इसरो

2014 तक बनेंगे 500 संचार ट्रांसपोंडरः इसरो

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के अध्यक्ष के राधाकृष्णन ने कहा है कि वर्ष 2014 तक देश में अत्याधुनिक क्षमता वाले तकरीबन 500 संचार ट्रांसपोंडर तैयार हो जाएंगे।


संचार एवं प्रौद्योगिकी को ग्रामीण भारत तक पंहुचाने के विषय पर आयोजित एक सम्मलेन को संबोधित करते हुए राधाकृष्णन ने शुक्रवार को कहा कि रिमोट सेंसिंग उपग्रहों की क्रान्तिकारी उपलब्धियों की बदौलत मछुआरों और जल प्रबंधन योजनाओं को खूब फायदे मिल रहे हैं।

उन्होंने बताया कि 18 वर्ष के प्रयोगों के बाद 15 अप्रैल को स्वदेशी क्रायोजेनिक के साथ जीएसएलवी उपग्रह का प्रक्षेपण किया जाएगा। श्रीहरिकोटा अंतरिक्ष केन्द्र से प्रक्षेपित होने वाले उपग्रह जीएसएलवी डी-3 को 2.2 टन के आधुनिक संचार उपग्रह जीएसएटी के साथ कक्षा में स्थापित किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि इन उपग्रहों से देश की परिवहन व्यवस्था और संचार प्रौद्योगिकी को लाभ होगा। राधाकृष्णन ने बढ़ती जनसंख्या पर चिंता जाहिर करते हुए कहा कि वैज्ञानिको को भोजन, जल और ऊर्जा से संबंधित समस्याओं पर ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:2014 तक बनेंगे 500 संचार ट्रांसपोंडरः इसरो