DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राजाजी में घुसे विदेशियों का धमाल

कई दिन से डाला है डेरा, तेज संगीत पर किया जा रहा डांस, जंगल में जल रहा चूल्हा

 

स्थान: राजाजी नेशनल पार्क में गौहरी और चीला रेंज की सीमा। लगभग पांच सौ विदेशी महिला, पुरुष व बच्चाे, सभी मस्ती के मूड में। किसी ने गिटार तो किसी ने ढोल थामा है और तेज संगीत की धुन पर लगाए जा रहे हैं ठुमके। यहीं नहीं यहां तंबू भी लगे हैं और चूल्हा जलाकर खाना भी बनाया जा रहा है। पार्क के अफसर और कर्मचारी इनको पार्क से बाहर निकालने के लिए मौके पर पहुंचते हैं तो संगीत व नृत्य और तेज हो जाता है। अधिकारियों व कर्मचारियों ने वापस लौटना ही सही समझा। यह किसी फिल्म की शूटिंग नहीं, बल्कि हकीकत है उस नेशनल पार्क की जहां सुरक्षा के मद्देनजर किसी को बिना अनुमति घुसने की इजाजत नहीं है।

संवेदनशील राजा जी पार्क में ये विदेशी कई दिन से डेरा डाले हैं। इनमें महिलाओं व बच्चाे भी काफी संख्या में हैं। इनके टैंट भी गड़े हैं और चूल्हे भी जल रहे हैं। इनके साथ कुछ साधुवेशधारी भी हैं। मंगलवार देर शाम गौहरी रेंज के अधिकारी इनको पार्क छोड़ने की चेतावनी देकर लौट आए थे। लेकिन वहां कोई नहीं हटा। बुधवार सुबह मीडियाकर्मी घने जंगल में पहुंचे तो यकीन नहीं हुआ पार्क में कोई इस तरह रह सकता है। दोपहर बाद पार्क के वन्य जीव प्रतिपालक एसबी लाल, सीओ कुंभ राजेंद्र सिंह सावंत और रेंजर एमएस नेगी, थानाध्यक्ष बृजपाल सिंह भारी पुलिस फोर्स और वन कर्मियों के साथ मौके पर पहुंचे। वन्य जीव प्रतिपालक मौके का नजारा देख सकते में आ गए। अधिकारियों ने विदेशियों को पार्क छोड़ने को कहा तो वे मुंह चिढ़ाने लगे। अधिकारी सख्ती दिखाते कि इससे पहले ही लगभग तीन सौ विदेशियों ने तेज संगीत की धुन पर थिरकना शुरू कर दिया।  एक भारतीय लग रहे युवक को पुलिस ने उठाने की कोशिश की तो विदेशी महिलाओं ने उसे छुड़ा दिया।
एक विदेशी महिला अधिकारियों से दिल्ली में तैनात पत्रकार मित्र से बात करने की जिद करती रही। बहरहाल, विदेशियों को खदेड़ने गए अधिकारी बैरंग लौट आए। वन्य जीव प्रतिपालक लाल ने बताया कि विदेशियों ने कुंभ मेला प्रशासन को ज्ञापन दिया है कि उन्हें स्वच्छंद रूकने के लिए स्थान दिलाने की मांग की गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:राजाजी में घुसे विदेशियों का धमाल