DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दागदारों लिस्ट से पटी पड़ी है अथॉरिटी

अथॉरिटी के गठन से अब तक घोटालों का पर्दाफाश होता रहा है। जिसमें कई अधिकारी नपे तो कई और नपने की लिस्ट में हैं। होटल, आवास, उद्यान यहां तक कि पाईप लाईन की खरीददारी में भी घोटाला हो चुका है।

बिल्डिंग सेल और इनक्रोचमेंट के इंचार्ज श्योदान सिंह पर बुलंदशहर की एक कंपनी से वसूली का मामला दर्ज हुआ। जिसमें उन पर धमका कर पैसा वसूलने का आरोप है।

अथॉरिटी सूत्रों का कहना है कि बिल्डिंग सेल में भी इस दौरान लोगों को परेशान किया जा रहा है।  कंप्लीशन सर्टिफिकेट देने के नाम पर तीन माह से अधिक का समय लग जाता है। वहीं सेल के इंजीनियर नियमों की दीवार खड़ी कर आबंटियों की चटनी बना देते हैं।

घोटालों की लिस्ट
वर्ष 92 में सीवर पाईप लाईन में लाखों का घोटाला सीनियर प्रोजेक्ट इंजीनियर पर गाज
वर्ष 2000 में फ्लेक्स को सेक्टर ही आबंटित कर दिया गया, अभी तक चल रही है जांच
वर्ष 2004 में आवास की आबंटन प्रक्रिया में की गई हेराफेरी, अभी तक चल रही है जांच
वर्ष 2008 में हुए उद्यान विभाग ने फर्जी कंपनी को कर दिया था चेक जारी, जांच शुरू
वर्ष 2009 में होटल घोटाले में फंसे हुए हैं कई अधिकारी,कोर्ट में मामला, अथॉरिटी में भी जांच

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दागदारों लिस्ट से पटी पड़ी है अथॉरिटी