DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

महिलाओं के लिए नकाब बाध्य नहीं: बांग्लादेश शीर्ष अदालत

महिलाओं के लिए नकाब बाध्य नहीं: बांग्लादेश शीर्ष अदालत

बांग्लादेश की एक शीर्ष अदालत ने शैक्षिक संस्थानों पर महिला शिक्षकों को नकाब थोंपने पर रोक लगाते हुए कहा है कि यह उनके मौलिक अधिकारों का उल्लंघन होगा।

हाई कोर्ट ने एक महत्वपूर्ण फैसले में कहा कि यह उनका (महिलाओं) का निजी चुनाव है कि वह नकाब पहनेंगी या अपना सिर ढकेंगी। हाई कोर्ट ने अपने फैसले में बांग्लादेशी शिक्षा मंत्रालय से कहा कि वह इस आदेश का कार्यान्वयन सुनिश्चित करे।

हाई कोर्ट ने कहा कि अगर कोई किसी महिला को उसकी सहमति के विपरीत उसे नकाब पहनने के लिए बाध्य करेगा, तो यह संविधान में कलमबंद उसके मौलिक अधिकारों का हनन होगा।
 उल्लेखनीय है कि एक सरकारी शिक्षा अधिकारी ने लिबास को लेकर एक स्कूल की प्रधान शिक्षिका के लिए अपमानजनक शब्द का उपयोग किया था जिसके बाद एक मानवाधिकार समूह ने जनहित याचिका दायर की थी।

अदालत ने सजा के तौर पर अपमानजनक शब्द का उपयोग करने वाले उपजिला शिक्षा अधिकारी आरिफ अहमद का किसी दूसरी जगह तबादला करने का भी आदेश दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:महिलाओं के लिए नकाब बाध्य नहीं: बांग्लादेश शीर्ष अदालत