DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आईपीएल की रौनक ही नहीं, रात की रानी भी चीयरलीडर्स

आईपीएल की रौनक ही नहीं, रात की रानी भी चीयरलीडर्स

आईपीएल में ग्लैमर का पुट डालने वाली चीयरलीडर्स न सिर्फ मैचों के दौरान पैसे कमा रही हैं, बल्कि आईपएल के बाद होने वाले रात्रिकालिन कार्यक्रमों की भी शोभा बढ़ाती हैं और हजारों में कमा रही हैं।

इन फिरंगी बालाओं ने दिल्ली की रंगीनियों को और भी अधिक बढ़ाते हुए रात की पार्टियों में एक नए ट्रेंड को जन्म दिया है। इन गोरी मेमों की पार्टियों में बड़े पैमाने पर मांग है। चाहे किसी कार की लांचिंग हो या फिर कोई शादी की पार्टी, ये बालाएं मेजबानों की तरह पेश आती हैं और पार्टियों की शोभा में चार चांद लगाती हैं। एक रात के लिए इन्हें 12 हजार से 25 हजार रुपये तक दिया जाता है।

दिल्ली में एक इवेंट मैनेजमेंट कंपनी के मालिक रमेश साहू का कहना है कि ये सभी लड़कियां खास तौर पर यूक्रेन, दक्षिण अफ्रीका और रूस की हैं। ये सभी यहां टूरिस्ट वीजा पर यहां आई हैं, लेकिन इनका मुख्य उद्देश्य कम समय में लाखों कमाने का है। उन्होंने कहा कि इन गोरी मेमों का बड़े पैमाने पर मांग है। 

उन्होंने कहा कि इन लड़कियों को इनकी जरूरत के हिसाब से अलग-अलग रकम दी जाती है। दरवाजों पर मेहमानों का स्वागत भर करने के लिए 10 हजार से 12 हजार, मेहमानों को ड्रिंक परोसने के लिए 15 हजार और लाइव टेबल ( जिसमें लड़कियों की स्कर्ट को ही टेबल की शक्ल दी जाती है, और वह खड़ी रहती हैं) बनने के लिए 25 हजार तक की रकम दी जाती है।

एक अन्य इवेंट मैनेजमेंट कंपनी डीएनए नेटवर्क के एमडी टी वेंकटवर्धन ने कहा कि ये सभी बालाएं स्टूडेंट्स हैं, जो कुछ दिनों की छुट्टियों पर यहां आई हैं। उन्होंने कहा कि इन बालाओं को अच्छी ट्रेनिंग देने की व्यवस्था होती है और कुछ ही दिनों की छुट्टियों में ये करोड़ों बनाती हैं।

दक्षिण अफ्रीका से आई एक चीयरलीडर्स ने कहा कि मुझे यहां बहुत मजा आ रहा है। यहां के दर्शक बहुत जोशिले हैं और मुझे यहां किसी प्रकार की दिक्कत नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आईपीएल की रौनक ही नहीं, रात की रानी भी चीयरलीडर्स