DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दंतेवाड़ा पर चिदंबरम का इस्तीफा नामंजूर

दंतेवाड़ा पर चिदंबरम का इस्तीफा नामंजूर

दंतेवाड़ा नरसंहार घटना की जिम्मेदारी लेते हुए गृह मंत्री पी चिदंबरम ने अपने पद से हटने की पेशकश की थी, लेकिन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने उनके इस्तीफे को नामंजमूर कर दिया।

चिदंबरम ने नक्सलियों द्वारा मंगलवार को किए गए इस जघन्य हत्याकांड की पूरी जिम्मेदारी लेते हुए शुक्रवार सुबह भी कहा कि इस घटना की जवाबदेही उनकी बनती है। प्रधानमंत्री कार्यालय के प्रवक्ता ने कहा कि गृह मंत्री ने एक दिन पहले लिखित इस्तीफा सौंपा था। प्रधानमंत्री ने उसे अस्वीकार कर दिया है।

चिदंबरम ने सीआरपीएफ के कार्यक्रम में कहा कि मुझसे प्रत्यक्ष और परोक्ष रूप से पूछा जा रहा है कि दंतेवाडा में जो कुछ हुआ उसकी जवाबदेही किसकी बनती है। मुझे यह कहने में कोई झिझक नहीं है कि इसकी जवाबदेही मेरी है। उन्होंने कहा कि दंतेवाडा में जो कुछ हुआ उसकी पूरी जिम्मेदारी मैं स्वीकार करता हूं। छत्तीसगढ़ से लौटने के तुरंत बाद मैं प्रधानमंत्री से मिला और उन्हें लिखित में कहा कि जो कुछ हुआ उसकी पूरी जिम्मेदारी मैं स्वीकार करता हूं।

इससे आगे कुछ बताने से इनकार करते हुए उन्होंने कहा कि मुझे और बताने को मत कहिए। मुझे सीआरपीएफ पर गर्व है। मंगलवार को दंतेवाडा में घात लगा कर किए गए नक्सली हमले में सीआरपीएफ की 62वीं बटालियन के 75 कर्मी मारे गए थे।

इस घटना से पहले चिदंबरम ने चार अप्रैल को पश्चिम बंगाल में नक्सलियों के गढ़ लालगढ़ का दौरा करने के समय उन्होंने वहां के मुख्यमंत्री बुद्धदेव भट्टाचार्य से कहा था कि राज्य में राजनीतिक हिंसा समाप्त करने की जिम्मेदारी भट्टाचार्य की है। इस टिप्पणी पर अपनी खिन्नता प्रकट करते हुए भटटाचार्य ने कहा था कि राजनीतिकों को ऐसी भाषा का प्रयोग नहीं करना चाहिए। उन्होंने कहा था कि वह अपना कार्य करेंगे और गृह मंत्री को चाहिए कि वह अपना काम करें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दंतेवाड़ा पर चिदंबरम का इस्तीफा नामंजूर