DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

'मालेगांव विस्फोट के आरोपी का ऑडियो टेप पुलिस के पास'

'मालेगांव विस्फोट के आरोपी का ऑडियो टेप पुलिस के पास'

महाराष्ट्र के गृह मंत्री ने कहा है कि उनके पास मालेगांव विस्फोट के आरोपी का ऑडियो टेप है जिसमें एक ऐसे रासायनिक पावडर का जिक्र है जिसे जूते-चप्पल पर डालने से व्यक्ति की तीन-चार दिनों में मौत हो सकती है।

गृह मंत्री आर आर पाटिल ने गुरुवार को कहा कि मालेगांव विस्फोट के एक आरोपी की बातचीत का एक ऑडियो टेप पुलिस के पास मौजूद है जिसमें राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत के खिलाफ असम्मानजनक टिप्पणी की गई है।

पाटिल ने कानून व्यवस्था मुद्दे पर विधानसभा में हुई चर्चा का जवाब देते हुए कहा कि बातचीत में ऐसे रासायनिक पावडर का जिक्र किया गया है जिसके फुटवियर पर डाल देने से व्यक्ति की तीन चार दिनों में मौत हो सकती है और पोस्टमार्टम में भी उसका पता नहीं लगेगा।

उन्होंने कहा कि बातचीत में कहा गया है कि भागवत संघ के नेतृत्व के लिए फिट नहीं हैं। मालेगांव विस्फोट के सभी आरोपियों के तार दक्षिणपंथी संगठन अभिनव भारत से जुड़े हुए हैं।

इसके पहले चर्चा में शामिल होते हुए राकांपा के जीतेंद्र अवहद ने अभिनव भारत, सनातन संस्था जैसे संगठनों और पाकिस्तान की आईएसआई के बीच संपर्क होने का आरोप लगाया।

उन्होंने सरकार से जानना चाहा कि क्या वह दोनों संगठनों के खिलाफ प्रतिबंध लगाएगी।

पाटिल ने कहा कि सही समय पर सही फैसले किए जाएंगे।

विपक्षी सदस्यों ने समय की कमी के कारण चर्चा में शामिल होने की अनुमति नहीं दिए जाने पर जवाब के पहले वाकआउट किया।

पाटिल ने कहा कि पुणे के जर्मन बेकरी विस्फोट मामले के आरोपियों पर पुलिस की नजर है और उन्हें जल्दी ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि केंद्रीय एजेंसियों और देश के अन्य भागों के जांचकर्ताओं के साथ समन्वय कर युद्धस्तर पर जांच चल रही है।

उन्होंने कहा कि वह सांगली़ मिराज सांप्रदायिक मामला सीबीआई को सौंपने को तैयार हैं। उन्होंने कहा कि मुंबई आतंकी हमलों के बाद राज्य सरकार ने अपने खुफिया विभाग को मजबूत करते हुए बल में भर्तियां की हैं। इसके पहले बल में अधिकारी प्रतिनियुक्ति पर होते थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:'मालेगांव विस्फोट के आरोपी का ऑडियो टेप पुलिस के पास'