DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शहर की शान पंडित नेहरु कॉलेज

भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू के नाम पर बना यह कॉलेज शहर की शान है। यहां से पढ़े छात्रों ने खेल और अन्य क्षेत्रों में सफलता के झंडे गाड़े। बात चाहे शिक्षा की हो या खेलकूद की दोनों विद्याओं में छात्रों ने कॉलेज का नाम रौशन किया। सांस्कृतिक गतिविधियां में यहां के छात्र बढ़चढ़ कर हिस्सा लेते हैं। प्रदेश सरकार ने इस कॉलेज 25 बेहतरीन कॉलेजों में शुमार किया है। सत्र 1971 में कला संकाय विषय के साथ कॉलेज की शुरुआत हुई थी। जो आज वटवृक्ष बन गया है। शहर का एकमात्र सरकारी कॉलेज हैं जहां सांयकालीन सत्र में कला संकाय की पढ़ाई होती है।
कॉलेज में छात्रों की संख्या--- 3467
छात्रों की कुल संख्या- 2919
छात्राओं की संख्या- 548

ये कोर्स हैं उपलब्ध:
कला, वाणिज्य, विज्ञान, बीबीए, बीसीए, बीएससी कंप्यूटर साइंस, बीएससी कमेस्ट्री, बीएससी बायोटेक, एमए अंग्रेजी, हिन्दी, इतिहास, मनोविज्ञान, कंप्यूटर साइंस, अर्थव्यवस्था और वाणिज्य फैकल्टी है कमाल की: प्राचार्य सहित प्रवक्ता की पूरी फौज यहां है मौजूद है।

वर्तमान समय में शिक्षण के लिए 84 प्रवक्ता हैं।
इनमें 37 प्रवक्ता पीएचडी और 24 ने एमफिल की है।
16 अतिथि प्राध्यापक कार्यरत हैं
सांध्यकालीन सत्र में चार प्रवक्ता कार्यरत
नैक ग्रेड बी
सांध्यकॉलीन सत्र में है कला संकाय की पढ़ाई

नामी लोग रहे हैं छात्र:
कॉलेज में पढ़ने वाले कई छात्र परिचय के मोहताज नहीं है। कुछ पढ़ रहे छात्रों ने भी अपनी प्रतिभा का डंका देश दुनिया में बजाया है।
अजय रत्रा, पूर्व भारतीय विकेटकीपर
विजय यादव, पूर्व भारतीय विकेटकीपर
हिमानी कपूर, गायिका
श्वेता चौधरी, अंतरराष्ट्रीय शूटर
लाइब्रेरी के क्या कहने:
पहली डिजिटल लाइब्रेरी। इसे हाल में ही ऑनलाइन किया गया है। यहां लेक्चरर रिकॉर्डिंग की व्यवस्था की गई है।

सांस्कृतिक गतिविधि:
क्षेत्रीय और राज्यस्तरीय युवा महोत्सव में लगातार महाविद्यालय के छात्रों ने बेहतर प्रदर्शन किया है। पिछले साल एमडीयू क्षेत्रीय युवा समारोह में 6 प्रथम, 7 द्वितीय और 4 तृतीय पुरस्कार मिला। बेस्ट एक्टर संस्कृत, वन एक्ट प्ले, बेस्ट एक्टर महिला वर्ग, हिन्दी वन एक्ट प्ले में सभी पुरस्कार यहां के छात्रों की झोली में गिरे।

खेलकूद में है अव्वल:
मार्शल आर्ट्स में स्वाति नेगी का आगमी एशियन गेम्स के लिए चयन हुआ। नेगी बीसीए प्रथम सेमेस्टर की छात्र है। मुंबई में आयोजित पंद्रहवीं अंतरराष्ट्रीय फुनाकोशी कराटे चैंपिनशिप में जगबीर ने स्वर्ण पदक जीता। जिमनास्टिक, किक बॉक्सिंग, आर्चरी, वेट, पावर लिफ्टिंग, एथलिटिक्स में भी छात्रों ने कॉलेज का नाम रौशन किया।

कैंटीन का हो रहा है कायाकल्प: छात्रों के संख्या के हिसाब से बेहतर कैंटीन की कमी कॉलेज परिसर में खल रही है। इसे बेहतर बनाने का प्रयास किया जा रहा है। नैक की टीम ने बेहतर कैंटीन बनाने का सुझाव दिया था।
विक्लांग छात्रों के लिए सुविधा: कॉलेज परिसर में ऐसे छात्र जो विक्लांग हैं। उनके लिए आने जाने के लिए रैंप बनाया गया है। इसके अलावा वजीफा भी दिया जाता है।

नए कोर्स का मिल सकता है तोहफा:
2010-11 शिक्षा सत्र के लिए एमबीए, बीकॉम कंप्यूटर एप्लिकेशन और बीकॉम टीपीपी नए कोर्स शुरू करने के लिए उच्चतर शिक्षा निदेशालय को पत्र लिखा है। इसके शुरू हो जाने से छात्रों के सामने कई विकल्प खुलेंगे।
जयवीर सिंह, प्रिंसिपल उवाच: कालेज निरंतर प्रगति के पथ पर है। छात्रों को प्राइवेट से बेहतर सुविधा दिया जा रहा है। छात्रों के कल्याण के लिए कई योजनाएं भी शुरू की गई है। इसमें कमाई के साथ पढ़ाई योजना ने आर्थिक रुप से छात्रों को सबल बनाया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:शहर की शान पंडित नेहरु कॉलेज