DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मोबाइल क्रांति के जादू की झप्पी 3जी

बॉस बेहद नाराज़ हैं। इतनी जरूरी मीटिंग करनी थी और स्टाफ मेंबर समय पर हाजिर ही नहीं है। तभी आती है एक वीडियो कॉल जिसमें कर्मचारी उन्हें दिखा रहा है कि कैसे वह ट्रैफिक जाम में फंसा है। बॉस की सारी नाराज़गी दूर हो गई। अब भला इस जाम पर किसका बस चलता है?

आप रहते हैं लखनऊ में और दिल्ली में घर खरीदना चाहते हैं। वहीं बैठे-बैठे महज आप एक फोन के जरिए कई घरों के वीडियो आप के सामने पेश कर दिए जाते हैं। फोन पर ही मनपसंद घर का सौदा पक्का हो जाता है।
घर बैठे मरीज डॉक्टर को वीडियो कॉल से हाल बताकर अपने लिए सही दवाई पा लेता है। यह सब संभव बनाने के लिए ही आपकी सेवा में हाजिर है - 3जी मोबाइल।

मिट जाएंगी दूरियां
वाकई तकनीक की यह नई क्रांति यानी 3जी मोबाइल फोन सेवा हर जगह लोगों की जीवनशैली और काम करने के तौर-तरीकों को बहुत हद तक बदल देने वाली है। आपके सोचने का तौर-तरीका इस फोन सेवा के इस्तेमाल से कितना बदलेगा अभी तो इसके सिर्फ अनुमान ही ज्यादा लगाए जा सकते हैं। यह सोचना काफी दिलचस्प है कि 3जी की मोबाइल सेवाएं प्रचलित हो जाने के बाद मोबाइल संचार की दुनिया कितनी रंगीन और मजेदार हो जाएगी।

मसलन, अगर आप 3जी सेवाओं का इस्तेमाल करेंगे तो प्रेमिका को यह समझाना काफी आसान हो होगा कि आप दफ्तर में ही व्यस्त हो जाने के कारण समय पर पास पहुंचने का वादा पूरा नहीं कर पा रहे हैं।

इसकी वजह यही है कि 3जी सेवाओं के जरिए अपने आसपास का महौल मोबाइल पर वीडियो कॉल से दिखाना संभव है। इसमें फोन करने वाले और उसे रिसीव करने वाले एक-दूसरे का चेहरा ही नहीं, उनकी हिलती बोलती वीडियो भी देख सकते हैं। वैसे हो तो इसका उलटा भी सकता है। मतलब मित्रों के साथ कहीं और व्यस्त रहने पर अपनी पत्नी को फोन पर यह कह कर बेवकूफ बनाना संभव नहीं होगा कि आप दफ्तर में देर तक काम कर रहे हैं।

यूं तो लोग आज भी मोबाइल पर इंटरनेट की सुविधा का इस्तेमाल कर रहे हैं पर 3जी तकनीक से न सिर्फ आपके लिए ई-मेल एक्सेस करने की गति बढ़ जाएगी बल्कि जीवंत वीडियो कॉल की बदौलत अपनों से दूरी का कोई एहसास दूर रहते हुए भी महसूस नहीं होगा।

बढ़ेगा मूल्यवर्धित सेवाओं का बाजार
स्मार्ट फोन के दावेदारों की मानें तो देश में 3जी मोबाइल के जरिए न केवल डाटा की डिलीवरी और उसके इस्तेमाल में ऐतिहासिक बदलाव आएगा, बल्कि डाटा को एक्सेस करने की गति भी तेज हो जाएगी। 3जी से न केवल मोबाइल नेटवर्क में सुधार होगा, बल्कि ग्राहकों को कॉल ड्राप होने की परेशानी से भी मुक्ति मिलेगी। इस फोन सेवा के प्रचलन में विस्तार से मोबाइल पर मूल्यवर्धित सेवाओं का बाजार भी खासा बढ़ेगा। 3जी की बदौलत जीपीएस प्रणाली बेहतर होगी और पाइंट टू पाइंट नेविगेशन सिस्टम भी बेहतर हो जाएगा। साथ ही मोबाइल के जरिए ई-कारोबार की लोकप्रियता में भी इजाफा हो सकेगा।

विज्ञापन के क्षेत्र में मोबाइल क्रांति
यह 3जी सेवा मोबाइल विज्ञापन के क्षेत्र में एक क्रांति ला सकती है। भारत में मोबाइल एडवरटाइजिंग अभी शुरुआती दौर में ही है। 3जी के बाद इंटरनेट एडवरटाइजिंग का दायरा भी तेजी से विस्तार लेगा। इसके अलावा, इस नवीनतम मोबाइल सेवा के जरिए उपभोक्ता वीडियो कॉल के साथ-साथ बेहतर ऑडियो-वीडियो का लुत्फ उठा सकते हैं। इस सेवा के जरिए उपभोक्ता को मोबाइल पर लाइव टेलीविजन की सुविधा भी मुहैया कराई जाएगी।

फायदे ही फायदे
इस सेवा से लोगों को कई तरह के फायदे मिल रहे हैं। सबसे बड़ा फायदा तो 3जी की वीडियो पावर से लोगों को मिलता है। इसकी मदद से टेली मेडिसिन, सिटीजन जर्नलिज्म जैसे प्रयोगों को प्रोत्साहन मिलेगा। यानी कोई भी ग्राहक किसी घटना के लाइव वीडियो अपलोड कर सकेगा। जाहिर है इससे मीडिया की ताकत भी सच के ज्यादा करीब पहुंच बना सकती है।

शिक्षा के क्षेत्र में भी यह सेवा काफी फायदे वाली साबित हो सकती है। इससे दूर-दराज के इलाकों में शिक्षा का प्रसार और आसान हो जाएगा। इस मोबाइल सेवा में अतिरिक्त सुविधाओं के रूप में एचएसपीए डाटा ट्रांसमिशन क्षमता भी शामिल है, जिसके जरिए डाउनलिंकिंग पर 14.4 मेगाबाइट्स और अपलिंकिंग पर 5. 8 मेगाबाइट्स की गति हासिल की जा सकती है।

3जी सेवाएं शुरू हो जाने से आपका मोबाइल छोटे से लैपटॉप में बदल जाता है। इससे डाटा भेजने की रफ्तार मौजूदा 2जी हैंडसेट के मुकाबले करीब 8 गुना ज्यादा रहती है। इससे वीडियो कॉन्फ्रेंस कॉल तो होगी ही, साथ ही मोबाइल पर लाइव टीवी प्रसारण भी देखा जा सकेगा। एक अहम खूबी यह भी है कि आप मोबाइल पर एक साथ कई काम कर सकते हैं। मसलन, आप मोबाइल पर फिल्म देखते हुए भी जरूरी दस्तावेजों को डाउनलोड कर सकते हैं।

इंटरनेट का आसान इस्तेमाल
अपने देश में मोबाइल की पहुंच इंटरनेट से कहीं ज्यादा है। 3जी सेवाओं से मोबाइल पर इंटरनेट का इस्तेमाल बेहद सहज हो जाता है। ऐसे में इंटरनेट के व्यापक प्रसार में 3जी सेवाएं अहम भूमिका निभाती नजर आ सकती हैं। मोबाइल  ब्लॉगिंग या वेबसाइट अपडेट करना चुटकियों में संभव होगा।

3जी सेवाएं देने वाली मोबाइल कंपनियों को भी आमदनी के नए रास्ते मिलते हैं। 3जी की वीडियो कॉल और इंटरनेट सर्फिंग से तो कंपनियों की आय बढ़ेगी ही, साथ ही वैल्यू एडेड सेवाओं के भी नये रास्ते खुलते दिख रहे हैं। अभी ऑपरेटरों की कुल आमदनी में वैल्यू ऐडेड सेवाओं की हिस्सेदारी करीब 9 फीसदी मानी जाती है। पर 3जी सेवाएं शुरू होने से कंपनियां के मुनाफे में कई गुना बढ़ोत्तरी देखने को मिल सकती है। 

दाम का सवाल
अगर सब कुछ ठीक रहा तो निजी कंपनियों को भी इस तीसरी पीढ़ी की मोबाइल सेवाओं के लिए जरूरी स्पेक्ट्रम मिल जाएगा। सरकार ने हाल ही में 3जी स्पेक्ट्रम की नीलामी का जो फैसला किया है। उसमें पूरे देश में 3जी सेवाओं के लिए स्पेक्ट्रम की शुरुआती आरक्षित कीमत 3,500 करोड़ रुपये तय है, लेकिन यह न्यूनतम कीमत कई गुना ऊपर भी जा सकती है। नीलामी में जो कंपनी सबसे ज्यादा कीमत देगी उसे ही 3जी स्पेक्ट्रम मिलेगा। जाहिर है यह कीमत जितनी ऊंची जाएगी उसका असर उपभोक्ताओं की जेबों तक भी आने वाला है।

यह भी जानिए
आप के लिए 3जी सेवाओं के इस्तेमाल को लेकर यह जानना सबसे ज्यादा जरूरी है कि आपका हैंडसेट 3जी सेवाओं के लिए उपयुक्त है भी, या नहीं। फिलवक्त जो हैंडसेट सर्वाधिक प्रचलित हैं वो 2जी सेवाओं के ही लायक हैं। लेकिन अब नोकिया से लेकर सैमसंग, मोटोरोला, सोनी एरिक्सन और एप्पल तक तमाम बड़ी कंपनियां 3जी हैंडसेट बनाने लगी हैं, जिनकी कीमत 6-7 हजार रुपये से लेकर 45 हजार रुपए तक मौजूदा बाजार में हैं।

जब आप 3जी हैंडसेट ले लेते हैं तो उसके बाद आपको अपने मोबाइल ऑपरेटर से 3जी सेवा का कनेक्शन लेना होगा। ऑपरेटर आपके फोन पर जीपीआरएस चालू कर देगा।  इसके बाद ही आपका फोन 3जी सेवाओं का इस्तेमाल कर सकेगा।

यूं तो देश में बीएसएनएल और एमटीएनएल कुछ चुनिंदा शहरों में 3जी सेवाएं शुरू कर चुकी हैं, लेकिन अभी वे ज्यादा प्रचलित नहीं हैं। इसका कारण यह है कि इनकी सेवाएं बहुत संतोषजनक नहीं हैं। ये दोनों इस नई सेवा को ठीक से भुना ही नहीं पाईं। लोगों में भी इनकी 3जी सेवाओं को लेकर कोई खास उत्साह नहीं जागा।  उम्मीद है कि निजी कंपनियों की 3जी सेवाएं शुरू हो जाने के बाद वीडियो कॉल दरें घटेंगी और इसकी सेवाओं का स्तर भी सुधरेगा।

अभी जबकि 3जी सेवाओं की बातें ही चल रही हैं कि 4जी यानी चौथी पीढ़ी की मोबाइल सेवाएं भी दस्तक देने को तैयार हैं। खबर है कि मोटोरोला ने 4जी के परीक्षण की तैयारी शुरू भी कर दी है और सरकार से इसकी इजाजत मांगने वाली है। इसमें डाटा ट्रांसफर की गति कम-से-कम एक जीबी की होगी। ऐसे में मोबाइल पर हाई डेफिनेशन टीवी, लाइव मोबाइल टीवी, शेयर ट्रेडिंग कहीं और तेज रफ्तारी संभव है। लेकिन निजी कंपनियों को भी 3जी स्पेक्ट्रम मिलने का रास्ता साफ होने से 3जी सेवाओं की असली होड़ सामने आएगी।

3जी संबंधी कुछ बुनियादी सवाल-जवाब

3 जी क्या है?
3जी तीसरी पीढ़ी की मोबाइल प्रौद्योगिकी  है। यह उच्चगति डेटा इंटरनेट और अनुप्रयोग जैसे वीडियो फोन, मोबाइल टीवी, संगीत डाउनलोड, फिल्म डाउनलोड आदि उपलब्ध कराती है। 

एमटीएनएल की 3जी सेवाओं के साथ कौन-कौन सी सेवाएं उपलब्ध हैं? 
3जी सेवाओं के साथ आप उच्च गति की इंटरनेट सेवाओं जैसे वीडियो फोन वीडियो स्ट्रीमिंग के साथ,  संगीत और सिनेमा डाउनलोड का आनंद ले सकते हैं, उच्च गति के खेल खेल सकते हैं और कई सेवाओं ज़ैसे मोबाइल टीवी, अंतर्राष्ट्रीय वीओआईपी कलिंग, वीडियो निगरानी आदि का आनंद ले सकते हैं।

3जी का अनुभव करने के पहले जरूरी शर्तें क्या हैं?
3जी कवर क्षेत्र में 3जी कनेक्शन और 3जी के अनुकूल हैंडसेट के साथ अनुभव पाया जा सकता है।

मुझे 3जी से किस गति की उम्मीद करनी चाहिए?
आपको ब्रॉडबैंड 2 एमबीपीएस तक की गति का अनुभव होगा। इन सेवाओं का उपयोग कर आप 3.6 एमबीपीएस तक की गति प्राप्त कर सकते हैं।

किन कारकों पर 3 जी गति निर्भर करती है?
गति हैंडसेट के प्रयोग, कवरेज, नेटवर्क यातायात और वर्तमान में उपयोगकर्ताओं की संख्या पर निर्भर करती है।

इसके लिए क्या मुझे अपना सिम बदलना होगा?
नहीं, आप अपने वर्तमान सिम से 3जी सेवाओं का उपयोग कर सकते हैं।

अगर मैं एक नया ग्राहक हूँ तो 3 जी कनेक्शन कहाँ से ले सकता हूं?
आप 3जी कनेक्शन एमटीएनएल ग्राहक सेवा केंद्र, वितरक और खुदरा दुकान से खरीद सकते हैं।

अगर मैं कवरेज क्षेत्र से बाहर हूं तो क्या होगा? 
आप उन क्षेत्रों में जहां 3 जी कवरेज नहीं है, 2जी 2.5जी कवरेज का उपयोग करते रहेंगे। यह सुनिश्चित करें कि आपके नेटवर्क सैटिंग डुएल मोड पर है।

क्या मुझे अपने मोबाइल हैंडसेट पर 3जी के लिए कोई सेटिंग करनी पड़ेगी?
जी हाँ।  आपको 3जी यूएमटीएस नेटवर्क के चयन के लिए अपने हैंडसेट में डुएल मोड का चयन करना होगा।   आपको जीपीआरएस सेटिंग की भी जरूरत होगी यदि आप जीपीआरएस प्रयोग नहीं कर रहे हैं।

2जी से 3जी में जाने पर क्या फायदा है?
एक तो उच्च गति इंटरनेट और डाटा सेवाओं का अनुभव कर सकेंगे, वीडियो कॉल और अन्य मल्टीमीडिया सेवाएं जो 2जी में उपलब्ध नहीं हैं, मिलेंगी।

क्या मैं अपने मोबाइल पर वीडियो डाउनलोड-अपलोड कर सकता हूं ?
हां, 3जी के साथ आप अपने मोबाइल हैंडसेट पर वीडियो डाउनलोड सकते हैं और देख सकते हैं। आप भी अपने मोबाइल से स्वजनित सामग्री यानी रिकॉर्ड वीडियो भेज सकते हैं और उन्हें अपने मोबाइल से इंटरनेट साइटों पर अपलोड कर सकते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मोबाइल क्रांति के जादू की झप्पी 3जी