DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एफसीआई खाद्यान्न भंडारण क्षमता की कमी को दूर करेगा

एफसीआई खाद्यान्न भंडारण क्षमता की कमी को दूर करेगा

सरकारी खरीद के खाद्यान्नों की भंडारण सुविधाओं की भारी कमी का सामना कर रही एजेंसी भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) ने डेढ़ साल में एक करोड़ 28 लाख टन भंडारण की अतिरिक्त सुविधा स्थापित करने की योजना बनाई है।

एफसीआई के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक सिराज हुसैन ने संवाददाताओं से कहा कि इस प्रयास में निजी क्षेत्र के लोगों को भी शामिल किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पिछले दो साल के दौरान अनाज की सरकारी खरीद में बड़ा इजाफा हुआ है। इस कारण भंडारण की समस्या बढ़ गई है। इसी कारण से भंडारण सुविधाओं के विस्तार की योजना शुरू की गई है।

इस महीने के आरंभ में देश में सरकारी ऐजेंसियों के पास पौने पांच करोड़ टन भंडारण की सुविधा थी। इसमें अकेले एफसीआई के पास 2.85 करोड़ टन भंडारण सुविधा थी। इस समय सरकारी गोदामों में कुल 4.28 करोड़ टन से कुछ अधिक अनाज पड़ा है।

एफसीआई भंडारण क्षमता विस्तार कार्यक्रम के तहत 71 लाख टन की अतिरिक्त सुविधा पंजाब और 39 लाख टन हरियाणा में स्थापित करेगा। इसके अलावा 17 लाख टन भंडारण सुविधायें तमिलनाडु, बिहार और जम्मू कश्मीर में जुटाई जाएंगी।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एफसीआई खाद्यान्न भंडारण क्षमता की कमी को दूर करेगा