DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चलो स्कूल, मिलेंगे टॉफी-खिलौने

बेटे स्कूल मे ढे़र सारी टॉफी मिलेगी। तुम्हारे लिए आज मैगी बनाई हूं। पूरा टिफिन खत्म कर देना। बच्चों के साथ लड़ाई मत करना। स्कूल में मिस बहुत प्यार करेंगी। वहा झूले हैं। खिलौने हैं। स्कूल में रोना मत।

कुछ ऐसी ही बातों से बहलाकर अभिभावकों ने मंगलवार को पहली बार अपने लाडले को स्कूल भेजा। शहर के नर्सरी स्कूलों में नया सेशन शुरू हो गया। पहले दिन कुछ बच्चे रोते हुए तो कई मुस्कुराते हुए स्कूल गए।

अनीसाबाद पुलिस कॉलोनी स्थित होली क्रॉस स्कूल के पास पहुंचते ही क्रिश रोने लगा। अपनी मम्मी का हाथ छोड़ने का नाम ही नहीं ले रहा था। इसी स्कूल में पहली बार अपनी बच्ची श्रेया को स्कूल छोड़ने आई संगीता ने कहा कि उसे पहली बार अपने से अलग कर रही हूं, इसलिए मन में डर तो है ही।

संत जोसेफ कान्वेंट में आंशु की मम्मी शालिनी श्रीवास्तव ने बताया कि मेरी बेटी पहले डर रही थी। लेकिन, नई किताबें, बैग, स्कूल ड्रेस देख खुश हो गई। इसी तरह, किड्जी, यूरो किड्स, संत जेवियर, संत माइकल, संत कैरेंस, होली मिलन, वंडर प्ले, डॉनबास्को एकेडमी सहित सभी स्कूलों में पहली बार बच्चे को स्कूल छोड़ने आए कुछ अभिभावकों के चेहरे खिले थे तो कई उदास भी दिखे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चलो स्कूल, मिलेंगे टॉफी-खिलौने