DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नेट की कोचिंग मुफ्त

समाज को नई दिशा देने में शिक्षकों की अहम भूमिका होती हैं। छात्र-छात्रओं के प्रति शिक्षकों को हमेशा उदार होना चाहिए। पटना विश्वविद्यालय को ही यह गौरव प्राप्त है कि एक साथ तीन कॉलेजों में मुफ्त नेट की कोचिंग की सुविधा गरीब छात्र-छात्राओं को दी जा रही हैं।

विश्वविद्यालय के साइंस कॉलेज, मगध महिला कॉलेज और बीएन कॉलेज में अल्पसंख्यक, अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के छात्र-छात्राओं के लिए कोचिंग चलाई जा रही हैं। ये बातें मंगलवार को बीएन कॉलेज में मुफ्त नेट कोचिंग का उदघाटन करते हुए पटना विश्वविद्यालय के कुलपति डा. श्याम लाल ने कही।

इस मौके पर कॉलेज की अन्वेषिका व डा. शिवसागर की पुस्तक का लोकार्पण कुलपति ने किया। समारोह में कॉलेज के प्राचार्य राजकिशोर प्रसाद ने कहा कि शोध कार्य ही मनुष्य को अमर बनाता हैं। यह कोशिश रहेगी कि भविष्य में और अच्छे जर्नल प्रकाशित किए जाएं।

उन्होंने बताया कि बुधवार से कोचिंग में पढ़ाई शुरू हो जाएंगी। समारोह में कॉलेज के इतिहास विभाग के अध्यक्ष डा. पीके पोद्दार को डीन बनाए जाने पर सम्मानित किया गया। पोद्दार ने कहा कि यह जर्नल छात्र-छात्रओं के लिए काफी फायदेमंद साबित होगा।

वैसे भी बिहार में सबसे अधिक पत्रिकाएं पढ़ी जाती हैं। इस मौके पर डीएन सिंह, डा. पी.नाथ, डा. एके झा, डा. धनंजय यादव आदि मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नेट की कोचिंग मुफ्त