DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

टाइटलर के खिलाफ मामला बंद करने पर आदेश सुरक्षित

टाइटलर के खिलाफ मामला बंद करने पर आदेश सुरक्षित

दिल्ली की एक अदालत ने पूर्व केन्द्रीय मंत्री जगदीश टाइटलर को 1984 के सिख विरोधी दंगा मामले में क्लीन चिट देते हुए मामले को बंद करने संबंधी सीबीआई की रिपोर्ट पर 20 अप्रैल तक बुधवार को अपना आदेश सुरक्षित रख लिया।

अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट राकेश पंडित ने सीबीआई के तर्क और मामले को बंद करने संबंधी रिपोर्ट का विरोध कर रही एक दंगा पीड़ित की पत्नी लखविंदर कौर के वकील की बात सुनने के बाद कहा कि इस मामले में अदालत अपना फैसला 20 अप्रैल को सुनाएगी।
    
सीबीआई ने पिछले साल दो अप्रैल को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता को क्लीन चिट देते हुए कहा था कि टाइटलर के खिलाफ मुकदमा जारी रखने के लिए जांच एजेंसी के पास कोई आधार नहीं है क्योंकि मामले के दो गवाह कैलिफोर्निया निवासी जसबीर सिंह और (दिवंगत हो चुके) सुरेन्दर सिंह विश्वसनीय नहीं हैं और उनके बयान फर्जी और मनगढ़ंत हैं।

सुरेन्दर सिंह के विभिन्न हलफनामों को पढ़ते हुए सीबीआई के वकील ने कहा कि उन्होंने बार बार अपने बयानों में बदलाव किया है। उन्होंने कहा कि एक दिन पहले उन्होंने दावा किया कि उन्होंने तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हत्या के बाद एक नवंबर 1984 को टाइटलर को एक भीड़ की अगुवाई करते हुए देखा और बाद में वह इस बात से पलट गये और उन्होंने दावा किया कि उन्होंने कांग्रेसी नेता को उस दिन नहीं देखा था।
    
वकील ने कहा कि यह मामला कथित तौर पर एक नवंबर 1984 को हुआ था। तो उस समय गवाह ने प्राथमिकी क्यों नहीं दायर की और अचानक 16 साल बाद उसने नानावती आयोग के समक्ष टाइटलर के खिलाफ आरोप लगा दिये।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:टाइटलर के खिलाफ मामला बंद करने पर आदेश सुरक्षित