DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बाथे नरसंहार मामलाः 16 को फांसी, दस को आजीवन कारावास

पटना की एक अदालत ने बिहार के अरवल जिला के लक्ष्मणपुर-बाथे नरसंहार मामले में बुधवार को 16 को फांसी और दस अभियुक्तों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई।

अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश विजय प्रकाश मिश्र ने इस मामले में 26 को दोषी ठहराते हुए उनमें से 16 को फांसी और दस को आजीवन कारावास तथा 31-31 हजार रूपए जुर्माने की सजा सुनाई। जबकि 19 अन्य को साक्ष्य के अभाव में बरी घोषित कर दिया।

इस मामले में जिन लोगों को बुधवार को फांसी की सजा सुनाई गई उनमें गिरजा सिंह, सुरेंद्र सिंह, अशोक सिंह, गोपाल शरण सिंह, बालेश्वर सिंह, द्वारका सिंह, विजेंद्र सिंह, नवल सिंह, बलिराम सिंह, नंदू सिंह, शिवमोहन शर्मा, प्रमोद सिंह, शत्रुन सिंह, रामकेवल शर्मा, धर्मा सिंह और नंद सिंह शामिल हैं।

न्यायधीश ने इस मामले में जिन 10 लोगों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई। उनमें बब्लू शर्मा, अशोक सिंह, मिथिलेश शर्मा, धरीक्षण चौधरी, नवीन कुमार, रविंद्र सिंह, सुरेंद्र सिंह, सुनिल कुमार, प्रमोद कुमार और चंदेश्वर सिंह शामिल हैं।

इस मामले के दो अन्य आरोपी भूखल सिंह और सुदर्शन सिंह की मुकदमें की सुनवाई के दौरान ही मृत्यु हो गई थी।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बाथे नरसंहार मामलाः 16 को फांसी, दस को आजीवन कारावास