DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

टाइम मैनेजमेंट से सफलता चूमेगी कदम

इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा के लिए छात्रों का मार्गदर्शन करने वाले एटीएन एकेडमी के भौतिकी विशेषज्ञ डीके पाण्डेय का कहना है कि अंतिम चरण में प्रतियोगियों को अलग से कुछ पढ़ने की आवश्यकता नहीं है। पहले से तैयार पाठ को बार-बार दोहरा लें। उनका कहना है कि परीक्षा में प्रश्न अधिक होने से टाइम मैनेजमेंट पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है। आज हम यूपीटीयू की प्रवेश परीक्षा के लिए सुझाव एवं सावधानी से छात्रों को जोड़ेंगे। यह प्रवेश परीक्षा 17 और 18 अप्रैल को है।

पाण्डेय का कहना है कि यूपीटीयू ( एसईई ) की परीक्षा में पहली पाली में भौतिकी एवं रसायन विज्ञान के प्रश्न पूछे जाते हैं। इसमें प्रत्येक से 75 प्रश्न पूछे जाते हैं। इसके लिए ढाई घण्टे का समय एवं दूसरी पाली में गणित का प्रश्न पत्र होगा इसमें गणित में कुल 75 प्रश्न होते हैं। इन दोनों प्रश्न पत्रों को हल करते समय छात्रों को समय का ध्यान देना आवश्यक है। दोनों प्रश्नपत्रों को मिलाकर कुल 900 अंक होते हैं। इसलिए भौतिकी एवं रसायन पर अधिक बल देने की आवश्यकता है। सभी प्रश्न चार-चार अंक के होते हैं।

इन चैप्टर पर दें विशेष ध्यान
मैकेनिक्स: सिम्पल हारमोनिक मोशन, गुरुत्वाकषर्ण, घर्षण, रोटेशनल मोशन, कन्जर्वेशन ला, कार्य-ऊर्जा एवं शक्ति, फ्लूड डायनमिक्स एवं स्टेटिक्स।
इलेक्ट्रोस्टेटिक्स: मैगनेटिक फील्ड, इंडक्शन, अल्टरनेटिंग करण्ट, संधारित्र
थर्मोडायनमिक्स: डाप्लर इफेक्ट, रेजोनेंस टय़ूब, कैलोरीमिट्री, गैस का गतिज आणविक सिद्धांत
लाइट: इंटरफरेंस, रिफ्रेक्शन इन प्रिज्म
माडर्न फिजिक्स: फोटो इलेक्ट्रिक इफेक्ट, न्यक्लियर फिजिक्स, एक्स-रे

क्या करें-
-मैकेनिक्स एवं माडर्न फिजिक्स से जुड़े प्रश्नों को छात्र अक्सर गलत करते हैं। इनको अच्छी तरह से देख लेना चाहिए।
-इलेक्ट्रो मैगनेटिज्म, अल्टरनेटिंग करेण्ट, रे- आप्टिक्स से अधिक संख्या में प्रश्न पूछे जाते हैं।
- लाइट से जुड़े चित्रों को अच्छी तरह से मस्तिष्क में बैठा लें

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:टाइम मैनेजमेंट से सफलता चूमेगी कदम