DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सांसों की खास आवाज है डॉल्फिन की पहचान

सांसों की खास आवाज है डॉल्फिन की पहचान

दोस्तो, तुम जानते ही हो कि पिछले दिनों डॉल्फिन की भी राष्ट्रीय पहचान बन गई है। भारत सरकार ने नदियों में पाए जाने वाली डॉल्फिन को राष्ट्रीय जल जीव घोषित किया है। इसके साथ ही डॉल्फिन को राष्ट्रीय पक्षी मोर और राष्ट्रीय पशु बाघ जैसा सम्मान प्राप्त हो जाएगा। अपनी खास विशेषताओं के लिए जानी जाने वाली डॉल्फिन के जीवन पर भी संकट मंडरा रहा है। यह बात अलग है कि छोटी मछलियों को निगलने में डॉल्फिन को बहुत मजा आता है।

मीठे पानी की डॉल्फिन भारत का राष्ट्रीय जलीय जीव है। यह स्तनधारी जंतु पवित्र गंगा की शुद्घता को भी प्रकट करता है, क्योंकि यह सिर्फ शुद्घ और मीठे पानी में ही जीवित रह सकता है। प्लेटेनिस्टा गेंगेटिका नामक यह मछली लंबे नोकदार मुंह वाली होती है और इसके ऊपरी तथा निचले जबड़ों में दांत भी दिखाई देते हैं। इनकी आंखों में लेंस नहीं होता और इसलिए ये सिर्फ प्रकाश की दिशा का पता लगाने के साधन के रूप में कार्य करती हैं।

डॉल्फिन मछलियां एक पंख के साथ तैरती हैं और गहराई में छोटी मछलियों की तलाश में जाती हैं। छोटी मछलियों को निगलने में डॉल्फिन को बहुत मजा आता है। डॉल्फिन मछलियों का शरीर मोटी त्वचा और हल्के भूरे-स्लेटी त्वचा शल्कों से ढका होता है और कभी-कभार इसमें गुलाबी रंग की चमक भी होती है। इसके पंख बड़े होते हैं, लेकिन एक पंख तिकोना और कम विकसित होता है। इस स्तनधारी जंतु का माथा एकदम सीधा खड़ा होता है। इसकी आंखें छोटी-छोटी होती हैं। डॉल्फिन मादा मछली नर मछली से बड़ी होती है। इन्हें स्थानीय तौर पर सुसु कहा जाता है, क्योंकि यह सांस लेते समय ऐसी ही आवाज निकालती है।  इस प्रजाति को भारत, नेपाल, भूटान और बंगलादेश की गंगा, मेघना और ब्रह्मपुत्र नदियों में तथा बांग्लादेश की कर्णफूली नदी में देखा जा सकता है। नदी में पाई जाने वाली डॉल्फिन भारत की एक महत्त्वपूर्ण प्रजाति है। इस प्रजाति पर जीवित रहने का संकट भी है, इसलिए इसे वन्य जीवन (संरक्षण) अधिनियम, 1972 में शामिल किया गया है। इस प्रजाति की संख्या में गिरावट के मुख्य कारण हैं अवैध शिकार, नदी के घटते प्रवाह और भारी तलछट। बेराज के निर्माण के कारण इनका यहां रहना मुश्किल होता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सांसों की खास आवाज है डॉल्फिन की पहचान