DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारत-चीन के प्रधानमंत्री कर सकेंगें हॉटलाइन पर बात

भारत-चीन के प्रधानमंत्री कर सकेंगें हॉटलाइन पर बात

अपने द्विपक्षीय संबंधों को एक नए दौर में पहुंचाने के उद्देश्य से भारत और चीन ने दोनों देशों के प्रधानमंत्रियों के बीच हॉटलाइन शुरू करने के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए।

विदेशमंत्री एसएम कृष्णा और उनके चीनी समकक्ष यैंग जियाची के बीच पहले स्तर की वार्ता के बाद दोनों नेताओं ने यह समझौता किया।
   
हाल के वर्षों में यह पहली बार हुआ है, जब भारत ने किसी देश के साथ पूरी तरह समर्पित हॉटलाइन सुविधा शुरू की है। करार के तहत दोनों देशों के प्रधानमंत्री कार्यालयों के बीच समर्पित फोन लाइन शुरू की जाएगी। इस सुविधा से प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह अपने समकक्ष वेन जियाबाओ से किसी भी समय सीधी बात कर सकेंगे।

दोनों देशों के बीच हॉटलाइन शुरू करने के बारे में फैसला पिछले साल जून में येकातेरिनबर्ग में मनमोहन और चीनी राष्ट्रपति हू जिंताओ के बीच वार्ता में हुआ था। दोनों विदेश मंत्रियों के बीच एक घंटे चली वार्ता के बाद कृष्णा ने कहा कि हॉटलाइन सुविधा की शुरुआत दोनों देशों के बीच करीबी संबंधों को प्रदर्शित करती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भारत-चीन के प्रधानमंत्री कर सकेंगें हॉटलाइन पर बात