DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हर व्यक्ति को मकान मालिक बनाना चाहती है डीएलएफ

देश की सबसे बड़ी रीयल एस्टेट कंपनी डीएलएफ के चेयरमैन के.पी. सिंह का सपना है कि देश में हर परिवार का अपना एक मकान हो, जिससे वह परिवार का मुखिया निश्चिंत होकर देश के विकास में योगदान कर सके।

एक सम्मान समारोह में सिंह ने कहा कि देश की तरक्की का लाभ सभी को मिले यह सुनिश्चित करने के लिए हर व्यक्ति या परिवार को मकान मालिक बनाना आवश्यक हैं। जिससे वह निश्चिंत होकर समाज में अपना योगदान कर सके।

अरबपतियों की विश्व सूची में शामिल डीएलएफ के मुखिया ने कहा कि सरकार ने जनगणना का काम शुरू किया है। मैंने सरकार को सुक्षाव दिया हैं कि इसमें मकान की मिल्कियत को भी नए सामाजिक आर्थिक संकेतक के तौर पर शामिल किया जाए, ताकि यह पता चल सके कि देश में कितने लोग बेघर हैं।

हालांकि, जब सिंह से पूछा गया कि डीएलएफ की सस्ते मकान उपलब्ध कराने की परियोजना की स्थिति क्या है, तो सिंह ने इस सवाल को टाल दिया।

डीएलएफ की पूर्ण स्वामित्व वाली अनुषंगी डीएलएफ होम डेवलपर्स दिसंबर, 2008 में 15 लाख रूपए से 40 लाख रूपए कीमत के दायरे में मकानों वाली रिहाइशी परियोजनाओं के विकास पर 15,000 करोड़ रूपए से अधिक के निवेश की घोषणा की थी।

समारोह के दौरान उन्होंने कहा कि सरकार का अनुमान है कि 12वीं पंचवर्षीय योजना में ढांचागत क्षेत्र के विकास के लिए 1,000 अरब डालर की जरूरत पड़ेगी, लेकिन मेरा विचार है कि इस क्षेत्र को 2,000 से 3,000 अरब डालर की जरूरत पड़ेगी।

उल्लेखनीय है कि के.पी. सिंह को राष्ट्रपति ने पदम भूषण सम्मान से विभूषित किया है। उद्योग मंडल एसोचैम ने अपने पूर्व अध्यक्ष सिंह के सम्मान में यह समारोह आयोजित किया था।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हर व्यक्ति को मकान मालिक बनाना चाहती है डीएलएफ