अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब निजी क्षेत्र को मिल सकेगी सीआईएसएफ सुरक्षा

गृहमंत्री पी. चिदंबरम ने कहा कि प्राइवेट और संयुक्त उपक्रमों को सीआईएसएफ की सुरक्षा देते समय पेट्रोलियम, आईटी और ऊर्जा क्षेत्रों को विशेष प्राथमिकता दी जाएगी। सीआईएसएफ संशोधन विधेयक पर चली चर्चा का जवाब देते हुए उन्होंने यह बात कही। उन्होंने कहा कि अध्यादेश आने के बाद हमार पास निजी क्षेत्र से काफी अनुरोध आए हैं। हम प्राथमिकता के आधार पर उपरोक्त क्षेत्रों को सुरक्षा प्रदान करने जा रहे हैं। चिदंबरम के अनुसार उपरोक्त क्षेत्र अर्थव्यवस्था के लिए बेहद महत्वपूर्ण हैं। मुंबई में होटलों पर आतंकी हमले के बाद केंद्र सरकार ने सीआईएसएफ की सुरक्षा निजी क्षेत्र को भी देने का फैसला किया था। इस बार में पहले ही अध्यादेश जारी किया जा चुका है। विधेयक पर चर्चा के दौरान सदस्यों ने यह मुद्दा उठाया कि क्या निजी क्षेत्र में श्रमिक आंदोलनों के मामले में भी सीआईएसएफ हस्तक्षेप करगी ? चिदंबरम ने कहा कि सीआईएसएफ की जिम्मेदारी संबंधित संस्थान को आतंकी हमलों से सुरक्षा प्रदान करनेड्ढr की होगी। लॉ एंड आर्डर का कार्य स्थानीय पुलिस ही करगी। यदि कोई और सुरक्षा भी संबंधित कंपनी के पास है तो उसकी कमांड सीआईएसएफ के हाथ में रहेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अब निजी क्षेत्र को मिल सकेगी सीआईएसएफ सुरक्षा