DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डुप्लेक्स के दोबारा आबंटन की योजना अटकी

खाली पड़े डुप्लेक्स के दोबारा आबंटन की योजना अटक गई है। जिससे सरकारी रेट पर नोएडा में अपने घर का सपना संजोए लोगों को झटका लगा है। इस योजना के तहत लगभग चार सौ भवनों का दोबारा आबंटन किया जाना था।


पूर्व में निकाले गए ड्रा में लकी और किश्तों की दौड़ में फिस्ड्डी रहे सैकड़ों आबंटियों के मकानों को पूछने वाला कोई नहीं है। इसके लिए अथॉरिटी ने सर्वे करा कर ऐसे भवनों की लिस्ट तैयार की थी। जिसमें वह भवन थे जिनका किसी कारण से पैसा देने में आबंटी नाकाम हो गए थे। इसके बाद इनको दोबारा बिक्री के लिए चिन्हित किया गया। जिससे लोगों को नोएडा में सरकारी रेट पर घर मुहैया कराया जा सके। अथॉरिटी सूत्रों के मुताबिक सर्वे में लगभग चार सौ भवनों को री-सेल की कटेगरी में डाला गया था। इसके लिए आबंटन राशि और फार्म की भी तैयारी पूरी कर ली गई थी। इसके बाद इस योजना की आगे की कहानी शुरू नहीं हो पाई। सूत्रों का कहना है कि डुप्लेक्स के साथ ही अन्य भवनों को भी चिन्हित कर नई योजना को लाने की प्लानिंग की जा रही है। जिसकी वजह से इसको विराम लगा दिया गया। सूत्रों का कहना है कि टू रूम और सिंगल रूम की श्रेणी में भी सैकड़ों भवन ऐसे हैं। जिनके आबंटी कुछ राशि देने के बाद भूल गए। जिससे अथॉरिटी को पैसा नहीं मिल पाया। शहर में जमीन न होने की वजह से इनका सर्वे किया जा रहा है। जिससे री-सेल कर अन्य को सरकारी रेट पर आशियाना मुहैया कराया जा सके। सूत्रों का कहना है कि इनके री-सेल की योजना जल्द ही निकालने की तैयारी की जा रही है।

डुप्लेक्स-लगभग चार सौ
डबल रूम सेट और सिंगल रूम का सर्वे जारी
मौजूदा सरकारी रेट पर लोगों को मिल सकेगा घर
इनमें से ज्यादातर है पॉश कॉलोनियों में

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डुप्लेक्स के दोबारा आबंटन की योजना अटकी